अगस्ता वेस्टलैंड केस में आरोपित राजीव सक्सेना बनेगा सरकारी गवाह, कोर्ट ने दी मंजूरी
March 25, 2019 • राकेश रमण

 नई दिल्ली। अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर से जुड़े मनी लॉर्डिंग केस में आरोपित राजीव सक्सेना को दिल्ली की एक अदालत ने सरकारी गवाह बनाने की अनुमति दे दी है। अभी हाल में ही ईडी ने कोर्ट को बताया था कि अगर राजीव सक्सेना को सरकारी गवाह बनाने की अनमति दी जाती है तो उसे कोई आपत्ति नहीं होगी। दरअसल इस मामले में आरोपित राजीव सक्सेना खुद सरकारी गवाह बनने की इच्छा कोर्ट के समक्ष जाहिर की थी। 6 मार्च को सक्सेना ने कोर्ट में अपना बयान दर्ज कराया था। कोर्ट ने इस मामले की प्रतियां सुनवाई कर रही विशेष अदालत को भेज दी थी3600 करोड़ रुपये के अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर से जुड़े मनी लॉर्डिंग केस के मामले में आरोपित दुबई के व्यापारी राजीव सक्सेना ने सरकारी गवाह बनने के लिए अदालत में अर्जी दायर की थीदिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट की विशेष कोर्ट ने 6 मार्च को राजीव सक्सेना का बयान रिकॉर्ड करने की तारीख तय की थी। राजीव सक्सेना की अर्जी पर कोर्ट ने ईडी से जवाब मांगा था। ईडी का आरोप है कि राजीव सक्सेना ने गौतम खेतान के साथ साठगांठ कर अगस्ता वेस्टलैंड के पक्ष में 12 वीवीआइपी हेलीकॉप्टरों के करार को प्रभावित करने के लिए विभिन्न राजनीतिज्ञों, नौकरशाहों और वायुसेना अधिकारियों को भुगतान करने के उद्देश्य से अवैध धन के शोधन के लिए वैश्विक कारपोरेट ढांचा प्रदान किया। इस मामले में वायुसेना के पूर्व प्रमुख एसपी त्यागी सहित कई आरोपित हैं। बता दें कि अभी हाल में राजीव सक्सेना को मेडिकल के आधार पर जमानत मिली थी। फिलहाल वह इस समय जेल से बाहर हैं।