उम्मीदवारों के खर्चो की होगी सख्त मॉनेटरिंग
March 24, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो

                     निगरानी टीमें रखेगी सभाओं एवं राजनीतिक गतिविधियों पर कड़ी नजर

जैसलमेर। आगामी लोकसभा चुनाव-2019 में प्रत्याशियों की ओर से चुनाव सामग्री, प्रचार प्रसार समेत विभिन्न प्रकार के खर्चो की सख्त मॉनिटिरिंग की जाएगी। इसके लिए पुलिस बल समेत फ्लाइंग स्कवायर्ड, स्टेटिटिक्स सर्विलांस टीमें, वीडियो सर्विलांस टीमे और एकाउंटिंग टीमों को तैनात किया गया है। जो सभाओं और राजनीतिक गतिविधियों पर कड़ी नजर रख रही है। जिला निर्वाचन अधिकारी (कलक्टर) नमित मेहता ने बताया कि यह सभी टीमें उन्हें आबंटित क्षेत्र में भ्रमण करके जहां आदर्ष आचार संहिता की पालना सुनिश्चित करवा रही है, वहीं खर्चे पर भी प्रभावी मॉनेटरिंग कर रहें है। जिला निर्वाचन अधिकारी मेहता ने बताया कि इलेक्ट्रोनिक्स एवं प्रिन्ट मीडिया में विज्ञापनों पर व्यय को डीआईपीआर एवं डीएवीपी की अनुमोदित दरों के आधार पर जोड़ा जाएगा। नगरीय निकायों के क्षेत्र में निजी एवं व्यावसायिक भवनों तथा वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों पर लगने वाली प्रचार सामग्री, चल वाहन एवं मोबाइल विज्ञापन वाहन आदि के लिए नगर परिषद की ओर से निर्धारित दर के आधार पर खर्च तय किया जाएगा। सोशल मीडिया पर भी खर्च का होगा आंकलन- सोशल मीडिया पर एसएमएस, वाट्सएप, वॉयस कॉल मैसेज समेत फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर, यू-ट्यूब, ब्लॉगिंग आदि पर प्रचार के व्यय को भी प्रत्याशियों के खर्च में जोड़ा जाएगा।