एक विधान एक प्रधान और एक निशान नए भारत की कहानी है-जगत प्रकाश नड्डा
September 27, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो

दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने  नई दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में मोदी सरकार द्वारा जम्मू.कश्मीर से धारा 370 के उन्मूलन विषय पर आयोजित विशाल जन.जागरण कार्यक्रम को संबोधित किया और इस निर्णय को ऐतिहासिक बताते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में जम्मू.कश्मीर को संवारने और उसे विकास के मुख्यधारा से जोड़ने के लिए देशवासियों से एकजुट हो काम करने की अपील की।  ज्ञात हो कि धारा 370 के उन्मूलन के विषय पर देश में जनजागरण लाने और प्रत्येक भारतवासी में जम्मू.कश्मीर की जनता के प्रति अपने उत्तरदायित्वों का बोध कराने हेतु पार्टी ने 01 सितंबर 2019 से 30 सितंबर 2019 तक पूरे देश में व्यापक जनसंपर्क एवं जनजागरण अभियान चलाने का निर्णय लिया है जिसके तहत देश भर में कई कार्यक्रम आयोजित हो रहे हैं और ईसी क्रम में कार्यकारी अध्यक्ष नड्डा 27 व् 28 सितम्बर को कोलकता में लोंगो से संवाद करेंगे। 

इससे पहले श्री नड्डा ने आज पार्टी के केन्द्रीय कार्यालय में सांस्कृतिक राष्ट्रवाद और अंत्योदय के प्रणेता और सबके प्रेरणास्रोत पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी की 104वीं जयंती के मौके पर श्रद्धासुमन अर्पित किया। उन्होंने पंडित दीन दयाल उपाध्याय पार्क में स्थित पंडित दीनदयाल जी की प्रतिमा की सफाई की। ज्ञात हो कि  25 सितंबर को पंडित दीन दयाल उपाध्याय जी के जन्म दिवस के अवसर पर पार्टी ने स्वच्छता अभियान के तहत दिल्ली में लगी सभी महापुरुषों की मूर्तियों की साफ.सफाई का निर्णय लिया था। इसी कड़ी में कार्यकारी अध्यक्ष ने महारानी झांसी चौकए झंडेवालान नई दिल्लीद् पर सेवा  कार्यक्रम के अंतर्गत महान वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई जी की प्रतिमा की साफ.सफाई की एवं माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया।

कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी जी के सक्षम नेतृत्व और केंद्रीय गृह मंत्री एवं हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जी की कुशल रणनीतिक कौशल ने देश की जनता की इच्छा के अनुरूप भारत में एक विधान एक प्रधान और एक निशान के सपने को साकार कर दिखाया। हम भाग्यशाली हैं कि इस ऐतिहासिक क्षण के गवाह हैं। देश की जनता ने मई में ईवीएम पर बटन दबा कर पहले से भी अधिक बहुमत के साथ मोदी सरकार का गठन किया और अगस्त की 5 और 6 तारीख को हमने संसद में बटन दबा कर जम्मू.कश्मीर से धारा 370 को धाराशायी कर दिया। अब हमारी जिम्मेदारी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में जम्मू.कश्मीर और लद्दाख को संवारना है एवं विकास लाना है और वहां की जनता के जीवन.स्तर में सुधार लाना है।

कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि 1951 में जब पहली बार जम्मू.कश्मीर में विधान सभा के चुनाव हो रहे थे तो शेख अब्दुल्ला के दबाव में श्रद्धेय प्रेमनाथ डोगरा जी की पार्टी प्रजा परिषद् के सभी 25 उम्मीदवारों के फॉर्म को रिजेक्ट कर दिया गया और शेख अब्दुल्ला की पार्टी के 73 उम्मीदवार बिना कंटेस्ट के चुन कर विधान सभा पहुँच गए। बाद में दो और उम्मीदवार भी चुने गए और इस तरह जम्मू.कश्मीर विधान सभा के सभी 75 सदस्य एक ही पार्टी से चुन लिए गए। इसी विधान सभा को शेख अब्दुल्ला ने जम्मू.कश्मीर की स्वतंत्र संविधान सभा और सोवरन बॉडी बना डाला। इसके विरोध में जम्मू.कश्मीर में आंदोलन हुए। हजारों लोग अनायास ही गिरफ्तार कर लिए गएए कई लोगों ने अपनी शहादत दी। हमने हमारे प्रथम अध्यक्ष डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी के नेतृत्व में देश की एकता और अखंडता को अक्षुण्ण रखने के लिए अहिंसात्मक आंदोलन किया और अपना सर्वोच्च बलिदान दिया। जम्मू.कश्मीर में रहस्यमय परिस्थितियों में उनकी मृत्यु हो गई। तब से लेकर आज तक भारतीय जनता पार्टी उस सपने को साकार करने के लिए संघर्षरत थी जो सपना 05.06 अगस्त 2019 को जाकर साकार हुआ। 

श्री नड्डा ने देशवासियों को याद दिलाते हुए कहा कि पंडित नेहरू और शेख अब्दुल्ला के बीच में दिल्ली अकॉर्ड भारतीय संविधान के मूलभूत सिद्धांतों के खिलाफ था। यह समझौता न तो हस्ताक्षरित था और न ही संवैधानिक। इसके अनुसार यह निर्णय लिया गया कि जम्मू.कश्मीर का अलग संविधान होगा। संसद के कानून जब तक जम्मू.कश्मीर की विधान सभा से पारित नहीं होगा तब तक जम्मू.कश्मीर में लागू नहीं होगा। इसके कारण एक ही देश में दो प्रधानए दो विधान और दो निशान की नींव पड़ी। 

कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि धारा 370 और 35A  को हटाने का फैसला राष्ट्रहित में लिया गया है। इस फैसले से देश के हर नागरिक के साथ.साथ जम्मू.कश्मीर की पूरी आवाम खुश है क्योंकि जम्मू.कश्मीर में अब देश की मुख्यधारा से जुड़ पायेगा और हर क्षेत्र का विकास हो पायेगा। देश के बनाए गए सभी क़ानून अब जम्मू.कश्मीर में भी लागू होंगे। अपने अधिकारों से वंचित गुर्जर, बकरवाल और वाल्मीकि समुदाय के लोगों को भी उनका हक़ मिलेगा। विधान सभा और लोक सभा की कुछ सीटें भी आरक्षित होंगी और वर्षों से मतदान के अधिकार से वंचित लोगों को उनका अधिकार मिलेगा। अब वे चुनाव भी लड़ सकते हैं और अपना भाग्य खुद तय कर सकते हैं।

श्री नड्डा ने कहा कि पूरी दुनिया इस फैसले पर हिंदुस्तान के साथ एकजुट है और आतंक का पनाहगाह पाकिस्तान अलग.थलग पड़ गया है। पाकिस्तान ने धारा 370 के खात्मे पर दुनिया के हर मंच को इस्तेमाल करने की कोशिश की लेकिन मोदी सरकार की सफल कूटनीति के कारण उसे हर जगह मुंह की खानी पड़ी। आज पाकिस्तान दुनिया भर में आतंक और आतंकियों के पनाहगाह के रूप में कुख्यात हो चुका हैए उसकी झूठी बातों पर कोई विश्वास नहीं कर रहा। विपक्षी पार्टियों ने धारा 370 पर खून.खराबे होने की आशंका जाहिर करते हुए माहौल खराब होने की भी बात कही थी लेकिन आज जम्मू.कश्मीर में चहुँ और शांति हैए साथ ही जनजीवन भी सामान्य हो रहा है। सारा देश धारा 370 के उन्मूलन पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के साथ एकजुट हो खड़ा हैए मैं अपने शीर्ष नेतृत्व को नमन करता हूँ। 

कार्यकारी अध्यक्ष ने ह्यूस्टन टेक्सास यूएसए में हुए विशाल हाउडी मोदी  कार्यक्रम को ऐतिहासिक घटना करार देते हुए कहा कि यह हिन्दुस्तान के लिए बहुत बड़ी घटना है। पूरी दुनिया के सामने सार्वजानिक मंच से संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी को भारत को एक सूत्र में पिरोने वाला व्यक्ति बताया और कहा कि उनकी लोकप्रियता अद्भुत है। विश्व के हर मंच पर आज भारत आगे बढ़ कर सभी समस्याओं पर पूरी दुनिया का नेतृत्व कर रहा है और यह सब संभव हुआ है हमारे लोकप्रिय प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी जी के कुशल नेतृत्व के बल पर।