एसोचैम के मार्गदर्शन में चीनी चिकित्सा उपकरण उद्यमियों ने किया यशोदा हॉस्पिटल का दौरा
April 22, 2019 • कमलेश पांडे
गाजियाबाद। यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल कौशांबी  में चीन से आए स्वास्थ्य एवं चिकित्सा क्षेत्र के व्यवसायियों एवं उद्यमियों ने चीन एवं भारत की स्वास्थ्य सेवाओं की गुणवत्ता एवं चिकित्सा स्तर के बारे में एक तुलनात्मक अध्ययन एवं चर्चा की। साथ ही, चीन के मरीजों को भारत में इलाज उपलब्ध कराने हेतु विस्तारपूर्वक हुई एक रणनीतिक चर्चा में भी भाग लिया।
इस प्रतनिधि मण्डल में चीन की मिस जेस्सी वे, मिस्टर डाँग वेडोंग, मिस्टर ली ज़्होंगजे , मिस क्सिओंग कैरोंग, मिस्टर वांग वे, मिस्टर लिउ फेन, मिस्टर  हे क्सियनलॉन्ग  ने भाग लिया।      
 
उल्लेखनीय है कि चीन में भारत की तुलना में चिकित्सा सेवाएं बहुत ही महंगी हैं तथा चीन के प्रतिनिधियों ने इसे एक आशा जनक कारण बताते हुए चीन से मरीजों को भारत आने हेतु संभावना एवं अवसर को तलाशने पर गहन चर्चा कर इस विषय को आगे बढ़ाने पर जोर दिया।
 
बता दें कि एसोचैम द्वारा आयोजित इस हॉस्पिटल भ्रमण का चीनी प्रतिनिधियों ने पूर्ण रूप से लाभ लिया तथा यशोदा हॉस्पिटल में लगे अत्याधुनिक उपकरणों एवं नवीनतम टेक्नोलॉजी के बारे में जानकारी प्राप्त की।उन्होंने यशोदा हॉस्पिटल के उच्च गुणवत्ता के मानकों को भी बारीकियों से जाना तथा अस्पताल के मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ पीएन अरोड़ा से इस बारे में विस्तार से चर्चा की। 
 
इस अवसर पर हॉस्पिटल की डायरेक्टर  उपासना अरोड़ा ने अपने चिकित्सा गुणवत्ता के क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय अनुभव से प्रतिनिधियों को परिचित कराया। जबकि, हॉस्पिटल के महाप्रबंधक डॉक्टर सुनील नागर ने प्रतिनिधियों को एक पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से अस्पताल में उपलब्ध सभी सुविधाओं के बारे में जानकारी दी एवं हॉस्पिटल को विभिन्न वर्षों में मिले अंतरराष्ट्रीय पुरस्कारों एवं गठबंधन के बारे में भी बताया।
 
इस दौरे का मार्गदर्शन एसोचैम की वरिष्ठ अधिकारी श्रीमती पायल स्वामी ने किया। चीनी प्रतिनिधियों ने हॉस्पिटल के इंफ्रास्ट्रक्चर एवं उन्नत तकनीकी, गुणवत्ता, संक्रमण प्रबंधन एवं साफ़ सफाई की सराहना की तथा कहा कि वे भविष्य में चीन के मरीजों के इलाज हेतु यशोदा हॉस्पिटल से आगे बात चीत करेंगे।