औचक निरीक्षण में जगह-जगह गंदगी देख हैरत में पड़े नगर आयुक्त दिनेश चंद्र सिंह
August 23, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो
    # क्षेत्रीय सफाई निरीक्षकों को अविलम्ब साफ-सफाई करवाने के दिये निर्देश 
 
    # नन्दी पार्क में दान में मिले हरे चारे की भी नियमित कटाई सुनिश्चित किये जाने का दिया निर्देश
 
    # कविनगर जोन, सिटी जोन, मोहननगर जोन और नन्दी पार्क का नगर आयुक्त दिनेश सिंह ने किया निरीक्षण
गाजियाबाद। नगर आयुक्त दिनेश चन्द्र ने कविनगर जोन, सिटी जोन, मोहननगर जोन एवं नन्दी पार्क का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्हें जहां-तहां गंदगी भी मिली, जिससे हैरत में पड़कर उन्होंने क्षेत्रीय सफाई निरीक्षकों की क्लास फोन पर ही लगा दी और अपने अपने क्षेत्र में अविलम्ब सफाई कार्य करवाने के निर्देश दिए। नगर आयुक्त श्री सिंह ने अपर नगर आयुक्त प्रमोद कुमार को यह भी निर्देश दिया कि वह यह सुनिश्चित करें कि सफाई कर्मी मुख्य सड़कों के अलावा अन्य सहायक सड़कों और गलियों में भी साफ-सफाई सुनिश्चित करें।
 
कविनगर जोन के निरीक्षण के समय गोविन्दपुरम क्षेत्र में काफी गंदगी व्याप्त थी। जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे हुए पाये गये। इस पर नाराजगी व्यक्त करते हुए नगर आयुक्त श्री सिंह ने क्षेत्रीय सफाई निरीक्षक नरेंद्र कुमार को दूरभाष पर निर्देशित किया कि आज ही उक्त क्षेत्र की समुचित साफ-सफाई कराकर अवगत कराएं। 
 
नगर आयुक्त ने सिटी जोन स्थित हापुड़ मोड, जी.टी.रोड, पुराना बस अडडा, अम्बेडकर रोड आदि क्षेत्रों का भी निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने पाया कि हापुड़ रोड़ स्थित गुरूद्वारे के आस-पास सफाई कर्मचारियों द्वारा सफाई कार्य किया जा रहा था। लेकिन गुरूद्वारे के निकट वाली गलियां काफी संकरी होने के कारण वहां से सिल्ट का उठान नहीं हो पाया था। इस पर नगर आयुक्त ने क्षेत्रीय सफाई निरीक्षक अशोक कुमार को दूरभाष पर निर्देश दिया कि सफाई कार्य पूर्ण होने उपरान्त ससमय सिल्ट का उठान कराकर अवगत कराया जाये। 
 
इसके अतिरिक्त, सिटी जोन स्थित पीएसी चौक, कैला भट्टा के निरीक्षण के समय कई जगह कूडे़ की ढेरियां  लगी थी, जिस पर नगर आयुक्त ने रोष व्यक्त करते हुए क्षेत्रीय सफाई निरीक्षक को दूरभाष से निर्देश दिये गये कि उक्त क्षेत्र की अविलम्ब समुचित सफाई कराकर अवगत कराया जाये तथा भविष्य में इस बात का विशेष ध्यान रखा जाये कि सफाई कार्य के साथ ही कूडे़ का उठान भी कराया जाये और उसकी ढेरियां बनाकर स्थल पर ही कदापि न छोड़ी जाएं। 
 
वहीं, मोहननगर जोन के निरीक्षण के समय नगर आयुक्त ने पाया कि जी.टी.रोड और मोहननगर चौराहा पर काफी गंदगी फैली हुई थी तथा जगह-जगह कूड़े के ढेर पाये गये। इस पर नाराजगी व्यक्त करते हुए नगर आयुक्त ने जोनल सैनेट्री आफिसर एवं क्षेत्रीय सफाई निरीक्षक को दूरभाष पर उक्त क्षेत्र की समुचित साफ-सफाई कराकर अवगत कराने हेतु निर्देशित किया तथा भविष्य में निरीक्षण के समय इस प्रकार की पुनरावृत्ति न होने पाये, इसके लिये सचेत भी किया। 
 
वहीं, नन्दी पार्क के निरीक्षण के समय नगर आयुक्त श्री सिंह के संज्ञान में आया कि निराश्रित गौवंशों के खाने के लिये दानदाताओं द्वारा जो हरा चारा दान किया जा रहा है, उसकी कटाई समय से नहीं हो पाने के कारण चारा सूखता जा रहा है। इस पर नगर आयुक्त ने मौके पर ही नंदी पार्क के प्रभारी डा.अनुज कुमार सिंह, पशु चिकित्सा एवं कल्याण अधिकारी को निर्देशित किया कि वे प्रतिदिन दान के रूप में प्राप्त हरे चारे का कटान समयबद्ध कराकर गौवंशों को खिलवाये। 
 
इसके अतिरिक्त, नगर आयुक्त ने पूर्व में नन्दी पार्क के निरीक्षण के समय निराश्रित गौवंशों के पीने के पानी की होदी और नाद में पानी की मात्रा कम व सूखी हुई मिलने पर प्रभारी नन्दी पार्क को यह निर्देशित किया कि नन्दी पार्क में भविष्य के लिये निराश्रित गौवशों को चौबीस घण्टे सातों दिन पीने का पानी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराया जाये। बावजूद इसके, व्यवस्था में कोताही देख सम्बन्धित लोगों को उन्होंने झिड़की लगाई।
 
निरीक्षण के समय नगर आयुक्त के संज्ञान में यह भी आया कि सफाई कार्य में लगे सफाई कर्मचारी मात्र मुख्य मार्ग की सफाई कार्य में ही ध्यान दे पा रहे हैं, जबकि मुख्य मार्गों के साथ-साथ वार्ड-क्षेत्र की आन्तरिक गलियों व सड़कों पर भी ध्यान दिया जाना चाहिये। इस पर नगर आयुक्त द्वारा दूरभाष पर अपर नगर आयुक्त प्रमोद कुमार एवं प्र. नगर स्वास्थ्य अधिकारी, सिस-ट्रांस हिण्डन को निर्देश दिये कि वे अपने स्तर से समस्त सफाई निरीक्षकों को निर्देशित करें कि मुख्य मार्गों के साथ-साथ वार्ड व क्षेत्रों की आन्तरिक सफाई का भी विशेष ध्यान रखा जाये। अन्यथा, सम्बन्धित क्षेत्रीय सफाई निरीक्षक एवं सफाई नायक के विरूद्ध कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।