गुरु नानक देव जी का संदेश घर-घर पहुंचाना हमारा लक्ष्यः मनजिंदर सिंह सिरसा
August 16, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो

नई दिल्ली। दिल्ली सिक्ख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व को समर्पित समागमों की रूप रेखा में कमेटी के ग्रंथीऔर पाठी सिंहों को गुरबाणी के शुद्ध उचारण की शिक्षा देने के लिए दमदमी टक्साल के मुख्य बाबा हरनाम सिंह जी खालसा के सहयोग से गुरबाणी बाठ बोध समागमआरंभ किये गये हैं जो कि 14 सितंबर तक चलेंगे।

इस मौके पर संबोधित करते हुए दिल्ली कमेटी अध्यक्ष स. मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि गुरु नानक देव जी की उस्तति के लिए अलग-अलग तरह के समागमदुनिया भर में हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूरी कायनात 550वां प्रकाश पर्व मना रही है, खुशी महसूस कर रही है, गुरु साहिब के नाम की खुशबू फैला रही है और इस मौकेपर हमने गुरु साहिब के संदेश व शिक्षा को घर-घर तक पहुंचाना है। उन्होंने कहा कि बाबा हरनाम सिंह जी खालसा मुखी दमदमी टक्साल ने बहुत बड़ा प्रयास किया है औरऐसी महान सेवा दिल्ली की संगतों व  दिल्ली कमेटी की झोली में डाली है। उन्होंने कहा कि पाठ बोध समागम चाहे तीन शब्द ही हों पर इनका वज़न धर्ती जितना ही है।उन्होंने कहा कि इस देश के संविधान में यह लिखा है कि जो जॅज फैसला सुनायेगा, उसकी व्याख्या केवल वही जॅज कर सकता है। इसी तरह गुरु साहिब की बाणी कीव्याख्या का किसी सिक्ख के पास अधिकार नहीं है कि वह जाने अनजाने में बहुत बड़ी भूल कर बैठे। उन्होंने आगे कहा कि पाठ बोध समागम गुरु साहिब की बाणी के सहीउचारण और उसका जाप करने की सही शिक्षा देंगे, यह एक बहुत बड़ी सेवा है।

श्री सिरसा ने कहा कि दिल्ली सिक्ख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी प्रकाश पर्व को लेकर कई तरह के समागम कर रही है पर यह सेवा परमात्मा स्वंय हमारे से काम ले रहा है।यह गुरु साहिब की रहमत और बख्शीश है। इसीलिये हम संगतों के सहयोग से बड़े समागम आयोजित करने के लिए प्रयासरत हैं।