छात्रों में प्रतिस्पर्धी भावना जगाने में जेआईएम की भूमिका है अहम: डॉ देविंदर नारंग
April 20, 2019 • कमलेश पांडे
# ज्यपुरिया इन्सटीट्यूट ऑफ मैनेजमेन्ट, इंदिरापुरम ने धूमधाम से आयोजित किया स्पर्धा 2019ः इंटर कॉलेज मैनेजमेन्ट फेस्टिवल 
 
# दिल्ली एनसीआर के 50 से अधिक कॉलेजों के 200 से अधिक छात्रों ने किया शिरकत
 
# नुक्कड़ नाटक, बिजनेस प्लान्स, डिबेट,केस स्टडी और बिजनेस क्विज में छात्रों की रचनात्मक, बौद्धिक और कलात्मक कौशल की मिली झलक
 
 
गाजि़याबाद। उत्तरी भारत के प्रमुख बी-स्कूल जयपुरिया इन्सटीट्यूट ऑॅफ मैनेजमेन्ट, इंदिरापुरम ने शनिवार को अपने इंटर कॉलेज मैनेजमेन्ट फेस्टिवल 'स्पर्धा 2019' का आयोजन किया। जिसमें दिल्ली-एनसीआर के 50 से अधिक कॉलेजों से 200 से अधिक छात्रों ने हिस्सा लिया। इस मौके पर नुक्कड़ नाटक, बिजनेस प्लान्स, डीबेट, केस स्टडी और बिज़नेस क्विज़ आदि का आयोजन किया गया। इस मौके पर छात्रों ने बेहद उत्साह के साथ विभिन्न प्रतियोगिताओं एवं गतिविधियों में अपने रचनात्मक, बौद्धिक और कलात्मक कौशल का प्रदर्शन किया। 
 
कार्यक्रम की शुरूआत दीप प्रज्जवलन और सरस्वती वंदना के साथ हुई। डॉ देविन्दर नारंग, डायरेक्टर, जयपुरिया इन्सटीट्यूट ऑफ मैनेजमेन्ट ने छात्रों के प्रयासों की सराहना करते हुए उन्हें प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि पिछले सालों के दौरान संस्थान ने छात्रों में प्रतिस्पर्धी भावना के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। पहले सत्र में बहु प्रतीक्षित नुक्कड़ नाटक प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। विभिन्न कॉलेजों से 100 से अधिक टीमों ने विभिन्न गतिविधियों और गेम्स में हिस्सा लिया। 
 
बिज़नेस प्लान्स प्रतियोगिता में टीमों ने अपने आधुनिक विचारों का प्रदर्शन किया। प्रतिभागियों को उद्योग जगत को विशेषज्ञों ने जज किया। डीपेट प्रतियोगिता में कई विषयों जैसे सोशल मीडिया, शिक्षा प्रणाली, डिजिटल सर्विलान्स आदि को कवर किया गया। बिज़नेस क्विज़ के माध्यम से छात्रों के बिज़नेस कौशल की जांच की गई। कार्यक्रम का समापन एडवरटाइजि़ंग यूफोरिया शो और टीम निर्माण गतिविधियों के साथ हुआ। सभी प्रतिभागियों ने जेआईएम के छात्रों की सराहना की, जिन्होंने डॉ निधी माथुर, डॉ अनुभा और मिस अवनीत कौर के मार्गदर्शन में यह बेहतरीन आयोजन किया था।