जिला निर्वाचन अधिकारी रितु माहेश्वरी ने की स्वीप कार्यक्रमों की समीक्षा
March 28, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो
गाजियाबाद। गुरुवार को जिला निर्वाचन अधिकारी सह जिला मजिस्ट्रेट रितु माहेश्वरी ने जनपद में स्वीप के तहत जन जागरूकता लाने के उद्देश्य से स्वीप कार्यक्रमों की रूपरेखा बनाने के लिए सम्बन्धित अधीनस्थ अधिकारियों को दिशा निर्देशा दिये। साथ ही, उन्होंने कहा कि चुनाव को लोकतंत्र के महापर्व के रूप में मनाइए।
 
जिलाधिकारी ने गत निर्वाचन में कम मतदान प्रतिशत वाले चिन्हित 222 बूथों पर विभिन्न मतदाता जागरूकता कार्यक्रम कराने हेतु स्वीप के प्रभारी अधिकारियों को निर्देशित किया ताकि जनपद के सभी मतदाताओं को लोक सभा निर्वाचन 11 अप्रैल के मतदान के लिए प्रेरित किया जा सके। उन्होंने कहा कि मतदाता जागरूकता कार्यक्रम हेतु आरडब्लूए का सहयोग अत्यन्त आवश्यक है। आर डब्लू ए व सिविल डिफेन्स के कार्यक्रमों में स्कूल कालेज के छात्र-छात्राओं को अवश्य सम्मिलित किया जाये। 
 
जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद के प्रत्येक क्षेत्र में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किये जाएं।ग्रामीण क्षेत्रों की अपेक्षा शहरी क्षेत्रों में मतदान के प्रति जागरूकता की अत्यन्त आवश्यकता है। इसलिए स्वीप कार्यक्रमों का आयोजन वृहद पैमाने पर नियमित रूप से किये जाये। उन्होंने नुक्कड़ नाटक रैली तथा चुनावी पाठशालाओं का व्यापक प्रचार प्रसार कराये जाने पर विशेष बल दिया। मॉल्स में बिल के साथ मतदान 11 अप्रैल के मतदान की स्टाम्प लगायी जाये। साथ ही, 9 अप्रैल तक स्वीप के सभी कार्यक्रम पूर्ण कर लिये जाये। 
 
जिलाधिकारी ने बेसिक शिक्षाधिकारी व जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देशित किया कि निजि स्कूलों को भी मतदाता जागरूकता कार्यक्रम का लक्ष्य प्रदान किया जाये। और 11 अप्रैल को मतदान के उपरान्त सर्वोत्तम मतदाता जागरूकता कार्यक्रम कराये जाने वाले निजि शिक्षण संस्थाओं को सम्मानित किया जायेगा। जनपद के व्यस्ततम क्षेत्रों में कट आउट लगाये बड़े-बड़े वैलून लगाकर मतदाताओं को मतदान के लिए प्रेरित करे। महिलाओं हेतु विशेष मतदाता जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किये जाये। 
 
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी, बेसिक शिक्षाधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, पंचायती राज अधिकारी, चीफ वार्डन सिविल डिफेन्स ललित जायसवाल व स्वयं सेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि व स्वीप की संयोजक उपस्थित रहे।