ज्ञान की संस्कृति विकसित करनी होगी तभी देश विकसित होगा -डॉ मनोहर लाल
March 28, 2019 • शशिधर शुक्ला

राष्ट्रीय सेवा योजना के तहत छात्र छात्राओं ने  समाज मे फैली कुरूतियों के प्रति ग्रामवासियों को जागरूक किया गया

भदोही। काशी नरेश राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय ज्ञानपुर में राष्ट्रीय सेवा योजना के पांचवें दिन शिविरार्थी जन जागरूकता कार्यक्रम के अंतर्गत मवैया हरदोपट्टी गांव गये और ग्रामवासियों को सफाई ,स्वच्छ्ता,दहेज़ न लेने न देने ,कन्या भ्रूण हत्या न करने के लिये प्रेरित किया।
    बौद्धिक गोष्ठी में शिविरार्थियों ने कन्या भ्रूण हत्या निषेध विषय पर नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत किया। आकाश ने सामाजिक जागरूकता पर कविता पाठ किया । कार्यक्रम के मुख्य वक्ता महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ से आये डॉ मनोहर लाल ने कहा आज हम तकनीक के गुलाम हो रहे हैं हमे ज्ञान की संस्कृति विकसित करनी होगी तभी देश आगे बढ़ेगा।डॉ कमाल अहमद सिद्दीकी ने ऐसी फ्रिज आदि उपकरणों से निकलने वाली विषैली गैसों के बारे में बताया। डॉ रविंद्र कुमार ने कहा पेड़ों और मूर्तियों पर लगे कैमिकल युक्त रंग पर्यावरण के लिये हानिकारक है इनसे बचना चाहिये।डॉ महेंद्र त्रिपाठी ने राष्ट्रीय सेवा योजना को समाज से जोड़ने वाली कड़ी बताया, डॉ विनोद यादव ने हमे निःस्वार्थ भाव से कर्म करना चाहिये ।डॉ प्रीति ने मानवीय संवेदनाओं को प्रचारित करने और समाज हित में कार्य करने के लिये प्रेरित किया।
   प्रोग्राम ऑफिसर डॉ कामिनी वर्मा ने कहा देश की आज़ादी के 70 वर्ष से अधिक हो जाने के बावजूद आज भी समाज मे अनेक कुरुतियाँ है , जिसको हम जमीनी स्तर पर जागरूकता अभियान चलाकर दूर कर सकते है । डॉ अवधेश सिंह यादव ने धन्यवाद ज्ञापन किया।