तेईस दिनों में किसानों के 4 हजार 895 करोड के ऋण हुए माफ
March 2, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो

                       तेरह लाख 6 हजार से अधिक किसानों को ई-मित्र केन्द्रों पर हुए जारी हुए प्रमाण-पत्र
जयपुर। सहकारिता मंत्री उदय लाल आंजना ने बताया कि हमने मात्र 23 दिवस की अवधि में 13 लाख 6 हजार किसानों के 4 हजार 895 करोड रुपये के फसली ऋण माफ कर ई-मित्र केन्द्रों के माध्यम से ऋण माफी प्रमाण पत्र जारी कर दिये हैं।उन्होंने बताया कि सहकारी समितियों ने अब तक 19 लाख 10 हजार 545 किसानों की 7880.29 करोड रुपये की ऋण माफी का डेटा अपलोड कर दिया है। यह कुल पात्र किसानों की संख्या के 78 प्रतिशत से अधिक है। आंजना ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में सरकार किसानों की ऋण  माफी के कृतसंकल्प है और हम उनके द्वारा दी गई समय सीमा में सभी पात्र किसानों के फसली ऋण माफ कर ऋण  माफी प्रमाण पत्र जारी कर देंगे। योजना की क्रियान्विति के लिये ग्राम सेवा सहकारी समितियों के स्तर पर ऋण माफी शिविरों का आयोजन हो रहा है जिसमें पात्र किसानों को ऋण माफी प्रमाण-पत्र वितरण किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि लोनवेवर पोर्टल पर ऋण माफी का डेटा अपलोड होते ही संबंधित किसान को एसएमएस के जरिये सूचित किया जा रहा है और अबतक 14 लाख 75 हजार 853 किसानों द्वारा बायोमैट्रिक सत्यापन कर दिया है। उन्होंने बताया कि हम प्रतिदिन औसतन 79 हजार किसानों को ऋण माफी
प्रमाण पत्रों का वितरण कर किसानों को राहत दे रहे हैं। उन्होंने सहकारी बैंकों से जुड़े सभी पात्र किसानों का आह्वान किया कि जैसे ही किसान के पास डेटा अपलोड होने का मैसेज प्राप्त हो वह तत्काल ग्राम सेवा सहकारी समिति में जाकर अपने बकाया ऋण राशि एवं माफी राशि का सत्यापन करते हुए
ई-मित्र केन्द्र के माध्यम से अपना बायोमैट्रिक सत्यापन का कार्य पूर्ण कर लें।