दिल्ली को सर्वश्रेष्ठ दिल्ली बनाने से भाजपा को अब कोई रोक नहीं सकता-मनोज तिवारी
October 5, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो
नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी जे जे सेल के प्रदेश अध्यक्ष सुशील चैहान ने अपनी पूरी टीम के साथ भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया। इसके साथ कई सेवानिवृत्त अधिकारी और उद्योगपति अपने साथियों के साथ भाजपा में शामिल हुये। दिल्ली भाजपा कार्यालय में आयोजित पत्रकार सम्मेलन में दिल्ली भाजपा अध्यक्ष  मनोज तिवारी एवं नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र  गुप्ता ने इन्हें भाजपा का पटका पहनाकर पार्टी में शामिल किया। इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष अभय वर्मा, पूर्व विधायक  अनिल बाजपेई, मीडिया सह-प्रभारी नीलकांत बक्शी, जे जे प्रकोष्ठ संयोजक उमेश वर्मा उपस्थित थे।
 
आम आदमी पार्टी के जे जे सेल के प्रदेश अध्यक्ष सुशील चैहान, कोषाध्यक्ष सौरभ प्रसाद, चांदनी चैक जिला इंचार्ज शहनावाज  जंगुपरा विधानसभा अध्यक्ष  मुन्ना भाई, पूर्वी दिल्ली लोकसभा अध्यक्ष जगदीश प्रधान, किसान मजदूर मोर्चा यमुना खादर के अध्यक्ष  हीरा लाल, बहलोलपुर प्रधान अली भाई, लेबर वेलफेयर के सेवानिवृत्त कमिशनर विजय कुमार सिन्हा, इन्वायरमेंट के सेवानिवृत्त विजलेंस आफिसर एन पी सुदन, सीबीआई के सेवानिवृत्त आफिसर आई पी शर्मा, उद्योगपति एस  एम गर्ग सुभाष गुप्ता, विष्णु गुप्ता, टैक्नोक्रेट एवं समाजसेवी  संजीव गुप्ता, शिक्षाविद अविकेश जिन्दल ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।
 
दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि झुग्गियों में प्रवास के दौरान हमने महसूस किया कि पांच साल दिल्ली बेहाल, क्योंकि जिन गरीबों से झूठा वादा करके सत्ता में आये अरविन्द केजरीवाल ने एक भी झुग्गीवाले को पक्का मकान नहीं दिया और न ही किसी झुग्गी की दशा ठीक हुई, वहां लोग आज भी पानी खरीद कर पीते हैं। 15 साल कांग्रेस के कुशासन के बाद झुग्गीवालों को केजरीवाल से उम्मीद जागी थी, लेकिन शीशे की तहर सब कुछ टूट कर बिखर गया। दिल्ली के लोग 20 सालों से सिसक रहे हैं क्योंकि गरीबों के लिए लागू की गई आयुष्मान भारत योजना के तहत उन्हें 5 लाख रूपये तक का मुफ्त इलाज नहीं मिल रहा है, लेकिन दिल्ली को सर्वश्रेष्ठ दिल्ली बनाने से भाजपा को अब कोई रोक नहीं सकता। केजरीवाल जितने का विज्ञापन देते हैं उतने का तो प्रोजेक्ट के पूर्ण निर्माण पर भी खर्च नहीं होता है। यह पैसा किसका है ? क्या सब कुछ चुनाव आने पर ही होता है ? 56 महीनों में काम क्यों नहीं हुये ?
 
नेता प्रतिपक्ष  विजेन्द्र गुप्ता ने कहा कि दिल्ली की लगभग 700 झुग्गी कैम्पों में  लगभग 20 लाख लोग रहते हैं, जिनके साथ केजरीवाल ने धोखा किया है। झुग्गीवालों ने केजरीवाल पर विश्वास किया था स्वाभिमान से जीने के लिये, लेकिन उन्हें धोखे के सिवाये कुछ नहीं मिला। पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार ने 70 हजार लोगों से 8000 रूपये प्रति फार्म के हिसाब से पैसा जमा करवाया था, लेकिन इन्हें मकान नहीं मिला और आज भी इनके हाथ खाली हैं, जबकि 5 साल से बने मकान जर्जर हो रहे हैं इन मकानों को केजरीवाल सरकार ने एक भी झुग्गीवाले को आबंटित नहीं किया है।
 
आम आदमी पार्टी जे जे सेल के प्रदेश अध्यक्ष सुशील चैहान ने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी की गरीबों के प्रति बनाई गई नीतियों और दिल्ली भाजपा अध्यक्ष  मनोज तिवारी की कार्यशैली से प्रभावित होकर भारतीय जनता पार्टी में अपने दल-बल के साथ शामिल हुआ हूँ। केजरीवाल पर निशाना साधते हुये उन्होंने कहा कि झुग्गीवालों के साथ आम आदमी पार्टी मुखिया अरविन्द केजरीवाल ने विश्वासघात किया है, क्योंकि उनकी छोटी-छोटी मांगों को भी उन्होंने पूरा नहीं किया। झुग्गीवालों से झूठ बोलकर सत्ता में आये आम आदमी पार्टी के सभी विधायकों से, मंत्रियों से और मुख्यमंत्री से भी झुग्गी की समस्याओं को हल करने का अनुरोध किया, लेकिन किसी ने भी कुछ नहीं किया। हम सभी झुग्गी वाले मिलकर इस बार भाजपा की दिल्ली में सरकार बनायेंगे।