निष्पक्ष व शांतिपूर्ण चुनाव के लिए अपनी-अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभाएं अधिकारी: आयुक्त
March 15, 2019 • कमलेश पांडे
# आर्म्स एक्ट में बहुत सारी कार्यवाही की जरूरत है: पुलिस महानिरीक्षक
# चुनाव कार्य के लिए तैनात किये गए हैं 25 हजार कार्मिक: जिलाधिकारी
# जनपद में हैं 16 हजार शस्त्रधारक, जिनमें 4 हजार रहते हैं बाहर: एसएसपी
# मण्डलायुक्त एवं पुलिस महानिरीक्षक ने निर्वाचन सम्बन्धी तैयारियों की समीक्षा की
# आयुक्त मेरठ मण्डल और आईजी ने मण्डल में शान्ति पूर्वक निर्वाचन कराने के उद्देश्य से दिये आवश्यक दिशा निर्देश
गाजियाबाद। शुक्रवार को मेरठ मण्डलायुक्त अनीता सी मेश्राम एवं पुलिस महानिरीक्षक रामकुमार द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में लोक सभा सामान्य निर्वाचन 2019 के मद्देनजर भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार स्वतंत्र, निष्पक्ष, शान्ति पूर्वक एवं पारदर्शिता के साथ प्रत्येक चुनावी गतिविधि को सम्पन्न कराने के उद्देश्य से  जनपदीय अधिकारियों के साथ चुनावी तैयारियों की  समीक्षा की और आवश्यक दिशा निर्देश दिए। 
 
इस दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी सह जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी ने समीक्षा बैठक के दौरान मण्डलायुक्त को निर्वाचन सम्बन्धी तैयारियों की विस्तारपूर्वक जानकारी दी। उन्होंने बताया कि निर्वाचन को भयमुक्त वातावरण में निष्पक्ष व शांतिपूर्वक तरीके से कराने के लिए जनपद में 212 सेक्टर मजिस्ट्रेट व 23 जोनल मजिस्ट्रेट नियुक्त किये गये हैंं, जिनके द्वारा जनपद की विधान सभा क्षेत्रों में लगातार भ्रमण किया जा चुका है। 
 
जिलाधिकारी ने आयुक्त को जानकारी दी कि निर्वाचन हेतु सभी टीमें गठित की जा चुकी हैं। 25 हजार कार्मिक चुनाव हेतु तैनात किये गये हैं। निर्वाचन को शान्ति पूर्वक सम्पन्न कराने के लिए समस्त अधिकारियों को निर्देश  जारी किये जा चुके हैं। समस्त उपजिलाधिकारियों व पुलिस क्षेत्राधिकारियों द्वारा संवेदन व अति संवेदनशील बूथों को चिन्हित कर कार्यवाही की जा रही है। लोक सभा सीटों के मतदान हेतु जनपद गाजियाबाद में 3 हजार 33 पोलिंग बूथ बनाये गये हैं व 694 पोलिंग  स्टेशन बनाये गये हैं। दिव्यांग मतदाताओं पर विशेष  ध्यान दिया जा रहा है। 
 
जिलाधिकारी ने आगे बताया कि गत 14 मार्च को सेक्टर मजिस्ट्रेटों को प्रशिक्षण  दिया जा चुका है। गत निर्वाचन के कम प्रतिशत के मद्देनजर शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम कराये जा रहे हैं। बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा मतदाता जागरूकता की गतिविधियां की जा रही हैं। नगर क्षेत्र में मॉल्स में आरडब्लूए के द्वारा मतदाता जागरूकता कार्यक्रम कराये जा रहे हैं। जनपद में निर्वाचन हेतु कन्ट्रोल रूम संचालित किया जा चुका है। कॉल सेन्टर्स संचालित हैं। ऑनलाईन मिलीं 215 निर्वाचन सम्बन्धी शिकायतों में से 85 शिकायतें निस्तारित की जा चुकी हैं। कम्यूनिकेशन प्लान बन गया है। जिला निर्वाचन अधिकारी ने जानकारी दी कि आदर्श  आचार संहिता का विशेष ध्यान रखते हुये अधिकारियों को कड़े निर्देश दिये गये हैं कि किसी भी प्रकार से आचार सहिता का उल्लघंन न होने पाये। 
 
इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जनपद के संवेदनशील व अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों की सूची तैयार कर सुरक्षा एवं शान्ति से चुनाव सम्पन्न कराने हेतु ब्लू प्रिंट तैयार कर लिया है। जनपद में 16 हजार शस्त्रधारक हैं जिनमें सेे 4 हजार 
शस्त्रधारक जनपद से बाहर निवास करते हैं। सभी शस्त्र धारकों को 24 घन्टे में अपने शस्त्र जमा कराने के निर्देश दे दिये गये हैं, अन्यथा की स्थिति में लाईसेन्स निरस्त करने की प्रक्रिया आरम्भ की जायेगी। 
 
एसएसपी ने यह भी बताया कि सभी पुलिस क्षेत्राधिकारियों ने जानकारी दी कि उपद्रवी लोगों को चिन्हित कर उनके मुचलके पाबन्द करने की कार्यवाही की जा रही है। इस पर आयुक्त ने कहा कि बनरेविल्टी को समाप्त करायें। अपराधियों को गुण्डा एक्ट में निरूद्व किया जाये और जिला बदर करने की कार्यवाही की जाये। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पैरामिल्ट्री फोर्स को ठहराने के लिए 75 स्कूल चिन्हित किये गये हैं। स्कूलों में पेयजल व शौचालय, विद्युत की व्यवस्था का निरीक्षण कर लिया गया है। पिछले निर्वाचन में जिन व्यक्तियों पर केस हुये हैं, उन्हें चिन्हित कर लिया गया है और सुरक्षात्मक कार्यवाही की जा रही है। जनपद में भारी मात्रा में निर्वाचन में प्रयोग की जाने वाली अवैध शराब की धर पकड़ जारी है। 
 
इस मौके पर मण्डलायुक्त अनीता सी मेश्रराम ने समस्त अधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा कि निर्वाचन से सम्बन्धित जिसको जो जिम्मेदारी सौंपी गयी है, उसका पालन निष्पक्षता से किया जाये। और भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार कार्यवाही सुनिश्चित की जाये, ताकि मतदान के दौरान किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े। 
 
इस अवसर पर आईजी ने कहा कि आर्म्स एक्ट में बहुत कार्यवाही की आवश्यकता है। आर्म्स एक्ट की चेकिंग  दुपहिया वाहनों से कराएं। डन्सिटी पोलिंग बूथों पर कानून व्यवस्था साफ दिखनी चाहिये। भीड़भाड़ वाले बूथों पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। मण्डल में प्रथम फेज का निर्वाचन है, लिहाजा शान्तिपूर्ण रहना चाहिये। 
 
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व, अपर जिलाधिकारी नगर, अपर जिलाधिकारी भूअ, अपर जिलाधिकारी प्रशासन, पुलिस अधीक्षक यातायात, पुलिस अधीक्षक नगर, सभी उप जिलाधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी, डिप्टी कलेक्टर सहित निर्वाचन से सम्बन्धित सभी अधिकारीगण उपस्थित रहे।