नेहरूनगर में गोदाम की जमीन पर बनेंगे ग्रुप हाउसिंग फ्लैट: कंचन वर्मा
September 19, 2019 • विशेष संवाददाता
     # जीडीए 9500 वर्गमीटर जमीन पर बनाएगा ग्रुप हाऊसिंग, प्लानिंग शुरू 
गाजियाबाद। शहर के बीचों-बीच नेहरूनगर में जीडीए द्वारा बनाए गए गोदाम की जमीन पर अब ग्रुप हाउसिंग मेंं फ्लैट का निर्माण होगा। यह ग्रुप हाउसिंग 9500 वर्गमीटर जमीन पर विकसित की जाएगी। जीडीए उपाध्यक्ष कंचन वर्मा ने नेहरूनगर में बने गोदाम की जमीन पर ग्रुप हाउसिंग सोसायटी विकसित करने के लिए अधिकारियों की इसकी प्लानिंग करने के निर्देश दिए हैं। 
 
उन्होंने आगे कहा कि वर्तमान में इस जमीन का भू-उपयोग व्यवसायिक है। जीडीए की आगामी बोर्ड बैठक में जमीन का भू-उपयोग परिवर्तित कर आवासीय कराने के लिए प्रस्ताव रखा जाएगा। जीडीए ने इसकी पूरी प्लानिंग शुरू कर दी हैं। जीडीए ने नेहरूनगर में 9500 वर्ग मीटर जमीन पर अपने गोदाम बना रखे हैं, जिनमें सामान रखा हुआ है। इस भूखंड की जमीन पर 5 गोदाम हैं। इन गोदामों में सामान रखने के बाद शहर में विकास कार्य कराता है। लेकिन जीडीए की हालत आर्थिक रूप से बिगड़ती जा रही है, इसलिए व्यवस्थाएं बदल गई हैं। 
 
उन्होंने कहा कि जीडीए ठेकेदारों के माध्यम से विकास कार्य कराता है। ऐसे में यह गोदाम पिछले कई साल से खाली पड़े हुए हैं। जीडीए अब इन गोदामों की जमीन पर नई ग्रुप हाउसिंग सोसायटी के तहत फ्लैट का निर्माण कराने की योजना बना रहा हैं, ताकि जमीन का प्रयोग कर इसमें फ्लैट बनाकर बेचे जा सके। 
 
जीडीए उपाध्यक्ष की मानें तो आगामी 27 सितंबर को प्रस्तावित प्राधिकरण की बोर्ड बैठक में इस भूखंड के भू-उपयोग को परिवर्तित करने का प्रस्ताव रखा जाएगा। इस प्रस्ताव के पास होने के बाद यह व्यवसायिक भूखंड आवासीय में परिवर्तित होने के बाद यहां पर नई ग्रुप हाउसिंग सोसायटी के तहत फ्लैट का निर्माण कराया जाएगा। 
 
जीडीए उपाध्यक्ष कंचन वर्मा ने बताया कि नेहरूनगर में शहर के बीच में जीडीए के गोदाम की जमीन है। यहां पर करीब 9500 वर्गमीटर जमीन पर गोदाम बने हुए हैं। लेकिन इन गोदाम में सामान नहीं है। ऐसे में यहां पर नई ग्रुप हाउसिंग सोसायटी के तहत फ्लैट का निर्माण कराने की प्लानिंग हैं। इस जमीन का भू-उपयोग व्यवसायिक है। आगामी बोर्ड बैठक में इसका प्रस्ताव रखा जाएगा। ताकि व्यवसायिक भू-उपयोग को परिवर्तित कराकर इसे  आवासीय कराया जा सके। इसके बाद यहां ग्रुप हाउसिंग सोसाइटी में फ्लैट का निर्माण करने की प्लानिंग की जाएगी। मालीवाड़ा में सिहानी गेट थाने के बगल में चंद्रशिला अपार्टमेंट की तरह यहां भी फ्लैट बनाए जाएंगे।