बीबी जगदीश कौर ने स्व राजीव गांधी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई
May 14, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो
                         राजीव गांधी जैसे कातिल को भारत रत्न देकर सम्मान की तौहीन की गई: बीबी जगदीश कौर
 
नई दिल्ली: 1984 के सिक्ख कत्लेआम की पीड़ित व गवाह बीबी जगदीश कौर ने आज यहां थाना पारलीमैंट सटरीट में राजीव गांधी और अन्य लोगों को खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई। कतल, सबूत मिटाने और खतरनाक हथियारों का इस्तेमाल करने जैसी अपराधिक धारायों के तहत यह शिकायत दर्ज करवाई गई।
 
एफआईआर दर्ज करवाने के पश्चात पत्रकारों से बातचीत करते हुए बीबी जगदीश कौर ने कहा कि इंन्द्रिा गांधी की मृत्यू के 4-5 दिन बाद एक शोक सभा का आयोजिन किया गया जिसमें पत्रकारों ने राजीव गांधी से पूछा कि पिछले दिनों हजारों सिक्खों को कतल किया गया तो इस के जवाब में राजीव गांधी ने एक बहुत ही शर्मनाक बात कही कि जब कोई बड़ा पेड़ गिरता है धरती तो हिलती है। उन्होंने कहा कि उसकी मां तो बड़ा पेड़ थी मगर जो हमारे परिवार के और हमारे पड़ोस में रहने वाले बेगुनाह फौजी अफसर कत्ल किए गए उनकी गिनती किन पेड़ों में होती थी।
 
बीबी ने यहां अफसोस जताते हुए कहा कि हमारी उस समय की सरकार ने हजारों बेगुनाहों के कातिल को भारत रत्न सम्मान देकर भारत रत्न सम्मान की तौहीन की है। उन्होंने आगे कहा कि 34 साल तक 1984 कत्लेआम के दोषियों को कांगे्रस ने बचाने का काम किया है। बीबी ने कहा कि जिनता अपराध करने वाला दोषी माना जाता है उतना ही अपराधी को बचाने वाला भी है। इसलिए सोनिया गांधी और उसके परिवार के उपर भी कार्यवाही होनी चाहिए क्योंकि उन्होंने सज्जन कुमार, एच के एल भगत, जगदीश टाईटलर और कमलनाथ जैसे अपराधियों को ना केवल बचाने का ही काम किया बल्कि के पद देकर भी निवाजा।
 
उन्होंने बताया कि 1984 में जगदीश टाईटलर, कमलनाथ जैसे नेताओं ने हमारे सामने नारे लगाकर भीड़ कत्लेआम के लिए उक्साया था, खून का बदला खून से लेंगे। पत्रकारों के स्वाल का जवाब देते हुए बीबी जगदीश ने कहा कि मेरे द्वारा दर्ज करवाई एफआईआर का राजनीति से कोई लेना देना नहीं और ना ही मैं किसी के कहने पर ऐसा कर रहीं हुँ । उन्होंने कहा कि मैं अब शिकायत इसलिए दर्ज करवाने आई हूँ क्योंकि जांच में अब यह साबित हो चुका है कि इन लोगों ने कत्लेआम करवाया था और मैंने अपने परिवार के सदस्य खोये है जिनके यह कातिल हैं।