भाजपा अप्रत्याशित बहुमत से दिल्ली की सातों सीटें जीत रही है- मनोज तिवारी
May 12, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो
नई दिल्ली।  दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आज पत्रकारों से अपने अनुभवों को सांझा करते हुये कहा कि सभी 14 जिला अध्यक्षों एवं सभी उम्मीदवारों से चर्चा करके इस नतीजे पर पहुंचा कि भाजपा अप्रत्याशित बहुमत से दिल्ली की सातों सीटें जीत रही है, आम आदमी पार्टी तीसरे नम्बर पर जा रही है और कई उम्मीदवारों की जमानत भी जब्त हो सकती है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी ने राजनीतिक स्तर को इतना गिरा दिया है कि वे अपनी हार से बौखलाकर भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट करने पर उतारू हो गये हैं। इस अवसर पर मीडिया सह-प्रमुख श्री नीलकांत बक्शी एवं मीडिया प्रमुख श्री अशोक गोयल देवराहा उपस्थित थे।
 
श्री मनोज तिवारी ने कहा कि आम आदमी पार्टी के विधायक मनोज कुमार ने भाजपा घड़ौली मंडल के पूर्व अध्यक्ष  तारादत्त जोशी को थप्पड़ मारा, उनके साथ मारपीट की, गाजीपुर पुलिस स्टेशन में इसकी शिकायत दर्ज कराई गई है, आम आदमी पार्टी राजनीतिक रूप से इतने नीचे गिर गई है कि मारपीट की राजनीति करने लगी है। उन्होंने कहा कि दक्षिणी दिल्ली के आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार राघव चड्ढ़ा ने तुगलकाबाद में बोगस वोटिंग का आरोप लगाया है जो पूरी तरह से निराधार है, राघव चड्ढा को अपनी हार सुनिश्चित दिखाई दे रही है इसलिये अभी से हार के बहाने गढ़ रहे हैं। दिल्ली जैसी जगह में कभी कोई बोगस वोटिंग नहीं हो सकती है। आम आदमी पार्टी का चुनाव आयोग सहित संवैधानिक संस्थाओं में कोई विश्वास नहीं है। 
 
दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि आम आदमी पार्टी और कांग्रेस अपनी हार के बाद ईवीएम में गड़बड़ी का बहाना जरूर बनायेगी, क्योंकि जब वो हारती है तो ईवीएम खराब हो जाती है और जहां वो जीतती है वहां ईवीएम सही हो जाती है। उन्होंने केजरीवाल पर हमला करते हुये कहा है कि नाकामपंथी ने दिल्ली की इतनी दुर्दशा की है जिसका जवाब मतदाता उसे तीसरे नम्बर पर ढकेलकर दे रहे हैं। इन बहानापंथियों का राजनीतिक ग्राफ लगातार गिर रहा है क्योंकि इन्होंने काम न करने के साढ़े चार साल में नये-नये बहाने ही खोजे हैं।
 
श्री तिवारी ने कहा कि दिल्ली में मैंने पहली बार मतदान किया। युवाओं में एवं फस्ट टाइम वोटरों में इतना उत्साह कभी नहीं देखा। उन्होंने मुझे बताया कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा से पहली बार भाजपा के पक्ष में वोट देने आया हूँ। देश के इस लोकतंत्र के उत्सव को मजबूत करने के लिए मुझे गर्व है।