नई दिल्ली।  भारतीय जनता पार्टी दिल्ली प्रदेश युवा मोर्चा के अध्यक्ष सुनील यादव के नेतृत्व में आज युवा मोर्चा के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने जे.एन.यू में देशद्रोह के नारे लगाने वाले कन्हैया कुमार व टुकड़े-टुकड़े गैन्ग के खिलाफ मुकदमा चलाने की अनुमति न देने पर केजरीवाल सरकार के खिलाफ आई.पी. कॉलेज मेट्रो स्टेशन पर एकत्र होकर मुख्यमंत्री आवास तक प्रचण्ड प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन का मुख्य उद्देश्य केजरीवाल सरकार द्वारा टुकड़े-टुकड़े गैन्ग का समर्थन करने एवं देश विरोधी नारे लगाने वालों के खिलाफ मुकदमा चलाने की अनुमति की मांग करना था।

    इस विरोध प्रदर्शन में दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता प्रदेश महामंत्री रविन्द्र गुप्ता, कार्यालय मंत्री  गिरीश सचदेवा, युवा मोर्चा के उपाध्यक्ष  राम खिलाड़ी यादव, सौरभ नैयर, दीपक यादव, अनमोल राणा, सर्वेश बाल्यान,  सागर त्यागी, युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष दीपक बंसल,  सुधीर मण्डल, अरविन्द नागर, प्रियांक जैन, सुन्दर चैधरी, आशीष चैधरी, इन्द्रजीत बल्ली,  हर्ष मित्तल, नीरज ठाकुर, वासू रूखड़ एवं अजय खन्ना उपस्थित थे।
   
    उपस्थित सैकड़ो युवा कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुये दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता ने कहा कि दिल्ली सरकार का गृह मंत्रालय कहता है कि कन्हैया कुमार पर देश विरोधी नारे लगाने का कोई सबूत नहीं मिला है, जबकि दिल्ली पुलिस ने अपनी चार्जशीट में सबूत व तथ्यों के आधार पर कोर्ट में अपनी बात रखी है जिस पर माननीय न्यायलाय ने दिल्ली सरकार की तरफ से मुकदमा चलाने की अनुमति लेने को कहा था लेकिन केजरीवाल ने तीन साल तक मुकदमा चलाने की अनुमति नहीं दी। दिल्ली विधानसभा में कई बार हमने यह मामला उठाया लेकिन हमें मार्शल के माध्यम से बाहर निकलवा दिया गया। केजरीवाल इस संबंध में न तो कोई चर्चा करना चाहते हैं और न ही कोई जवाब देना चाहते हैं जो यह स्पष्ट करता है कि वो देश विरोधी ताकतों के साथ खड़े हैं और इसके लिए दिल्ली की जनता उन्हें कभी माफ नहीं करेगी।

    प्रदेश महामंत्री  रविन्द्र गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल देश विरोधी नारे लगाने वाले टुकड़े-टुकड़े गैन्ग को बचाने के लिए उनका समर्थन कर रहे है।  केजरीवाल सरकार की असलियत को जनता के सामने लाने के लिए दिल्ली भाजपा ने कमर कस ली है। हम ऐसी देश विरोधी मानसिकता की भर्तस्ना करते है। राजनीतिक स्वार्थ से प्रेरित केजरीवाल दिल्ली की सत्ता में बने रहने के लिए किसी भी हद तक गिर सकते है। टुकड़े-टुकड़े गैन्ग के बचाव में उतरकर केजरीवाल ने यह स्पष्ट भी कर दिया है कि उन्हें देश से अधिक  सत्ता से प्रेम है।
 दिल्ली भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष सुनील यादव ने कहा कि केजरीवाल अपनी स्थिति स्पष्ट करें कि वो देश के साथ खड़े हैं या फिर देश विरोधी नारे लगाने वाले टुकड़े-टुकड़े गैन्ग के साथ खड़े हैं। भारत तेरे टुकड़े होंगे, इंशा अल्लाह, कश्मीर की आजादी तक जंग रहेगी जारी, तुम कितने अफजल मारोगे, हर घर से अफजल निकलेगा, अफजल हम शर्मिंदा हैं, तेरे कातिल जिंदा हैं, ऐसे देश विरोधी नारे केजरीवाल को देशभक्ति के नारे लगते हैं तभी वो कन्हैया कुमार और टुकड़े-टुकड़े गैंग के बचाव में उतरे हैं। दिल्ली पुलिस ने हैदराबाद से आई फोरेन्सिक जांच के बाद विडियों में कन्हैया कुमार, उमर खालिद, अनिर्बान भट्टाचार्य के खिलाफ सबूत पाये थे और उन्हें अपनी चार्जशीट में तथ्यों के आधार पर केस तैयार किया था, लेकिन दिल्ली सरकार की अनुमति के बिना मुकदमा आगे नहीं चल सकता था। तीन साल तक जानबूझ कर केजरीवाल ने मुकदमा चलाने की अनुमति न देकर यह साबित कर दिया कि सत्ता का दुरूपयोग कैसे किया जाता है। केजरीवाल पुलिस और न्यायलय के कामों में बाधा पहुंचाकर सवैंधानिक मान्यताओं को धवस्त कर रहे हैं। देश की अखण्डता व संप्रभुता के लिए हमारें सैनिक अपना सर्वस्व न्यौछावर कर देते हैं, वहीं देश के अन्दर कैन्सर के रूप में मौजूद कुछ लोग देश विरोधी नारे लगाते हैं जिसकी सभी दलों को मिलकर निन्दा करनी चाहिए और दोषियों को सजा दिलाने के लिए मिलकर आवाज उठानी चाहिए।