मतगणना के तौर तरीकों और तैयारियों को लेकर जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी ने दिए अहम दिशा निर्देश
May 1, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो
 
मतगणना के तौर तरीकों और तैयारियों को लेकर जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी ने दिए अहम दिशा निर्देश
 
# अधीनस्थ अधिकारियों को उनकी जिम्मेदारी बताते हुए उनको पूरे करने के लिए ततपर रहने के दिये निर्देश 
 
# लोकसभा चुनाव की मतगणना की तैयारियों के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने की बैठक
 
# 23 मई को प्रातः 8 बजे से होगी मतगणना
गाजियाबाद। जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी ने कलेक्ट्रेट सभागार में आगामी 23 मई को होने वाली मतगणना की तैयारियों के संबंध में एक समीक्षा बैठक आयोजित की। इस दौरान उन्होंने बताया कि गाजियाबाद लोकसभा क्षेत्र एवं बागपत लोकसभा क्षेत्र में सम्मिलित मोदीनगर विधान सभा क्षेत्र की मतगणना का कार्य 23 मई को प्रातः आठ बजे आरम्भ होगा। 
 
जिलाधिकारी ने बताया कि मतगणना प्रारम्भ होने से पूर्व सात बजे ईवीएम स्ट्रांग रूम खोले जाएंगे। उस समय पर निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थी उपस्थित रहेंगे। मतगणना प्रारम्भ करने से पूर्व समस्त उपस्थित अधिकारी, कर्मचारी और अन्य स्टाफ का ध्यान लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम- 1951 की धारा-128 की ओर आकर्षित कराकर गोपनीयता बरती जाने हेतु निर्देशित किया। 
 
जिलाधिकारी ने सभी सहायक रिटर्निंग आफिसर को निर्देश दिये कि प्रत्येक टेबल पर मतगणना किये जाने वाले मतदेय स्थलों के विवरण का चरणवार चार्ट बना लें। साथ ही, कन्ट्रोल यूनिट को खोले जाने से पहले उपस्थित उम्मीदवार, निर्वाचन अभिकर्ता, गणना अभिकर्ताओं को उसका निरीक्षण करा लिया जाये। जिससे किसी को शिकायत का अवसर प्राप्त न हों। सभी सहायक रिटर्निंग  आफिसर चरणवार तैयार की गयी सूचना को कम्प्यूटर के माध्यम से भी तैयार कराएंगे। इस कार्य के लिए कम्प्यूटर एवं कर्मचारियों की व्यवस्था अपने स्तर से सुनिश्चित  करेंगे। 
 
डीएम ने आगे बताया कि प्रत्येक विधान सभावार क्षेत्र पंडाल में मतों की गणना हेतु एक मेज पर मतगणना सुपरवाईजर, मतगणना सहायक, माइक्रो आर्ब्जबर और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी उपस्थित रहेंगे। मतगणना हॉल में स्थित टेबूलेशन मेजों पर एक लेखाधिकारी, तीन कर्मचारी मैनुवली तथा तीन कर्मचारी कम्प्यूटर द्वारा एक्सल सीट पर मतगणना परिणाम तैयार कराने हेतु रहेंगे और अतिरिक्त मतगणना स्टाफ-2 कर्मचारी प्रति विधान सभा क्षेत्र चुनाव प्रेक्षक के निर्देश पर प्रत्येक चरण में रैन्डमली 2 ईवीएम की पुनः जांच हेतु रहेंगे। माइक्रो आर्ब्जबर के रूप में केन्द्रीय कर्मचारियों को नियुक्त किया जायेगा। 
 
जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि जिला सूचना विज्ञान अधिकारी कम्युनिकेशन रूम स्थापित करेंगे, जिसमें टेलीफोन, कम्प्यूटर, प्रिन्टर, फैक्स इत्यादि की व्यवस्था देखेंगे। इसके अलावा, मीडिया सेन्टर पर भी प्रत्येक चरण की सूचना मीडिया कर्मियों को देने हेतु मीडिया सेन्टर स्थापित किया जायेगा जिसमें एलईडी, टेलीफोन, कम्प्यूटर व सम्बन्धित अधिकारियों की व्यवस्था की जायेगी। 
 
जिलाधिकारी ने बताया कि प्रत्येक विधान सभा क्षेत्र में एक-एक मजिस्ट्रेट नियुक्त किये जाएंगे। जिनके समकक्ष पुलिस अधिकारियों को भी यथा समय तैनात करने की व्यवस्था की जाये। उन्होंने अग्नि शमन अधिकारी को निर्देशित किया कि मतगणना स्थल पर अग्निशमन से सम्बन्धित समस्त व्यवस्थाएं सुनिश्चित करेंगे। अधिशासी अभियन्ता, लोक निर्माण विभाग द्वारा मतगणना हॉल में सभी व्यवस्थाएं 10 मई से प्रारम्भ कराना सुनिश्चित  करेगें और 20 मई तक व्यवस्थाएं पूर्ण कर ली जाये। तथा मुझे डमी टेबल सेटिंग करके दिखाएं। सुरक्षा की दृष्टि से स्ट्रांग रूम तथा काउन्टिग हॉलों को घेरते हुये आउटर साइड की बैरिकेटिंग करायी जायेगी। उन्होंने बताया कि मतगणना हॉलों के अन्दर सहायक रिटर्निंग  आफिसर की टेबल के समक्ष दोनों ओर सात-सात टैबिल लगायी जायेगी। 
 
जिलाधिकारी ने नगर आयुक्त, नगर निगम को मतगणना स्थल पर शुद्ध पेयजल, सफाई, शौचालय की व्यवस्था करने हेतु निर्देशित किया। अपर जिलाधिकारी नगर व सहायक मनोरंजन कर आयुक्त को पांचों मतगणना हॉलों पर वीडियोग्राफी हेतु प्रोफेशनल वीडियो कैमरे व मानव शक्ति तैनात करने के निर्देश दिये। कैमरों सहित टीमें व सीसीटीवी कैमरे उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि 70 वीडियो कैमरों की व्यवस्था करनी सुनिश्चित करें। अधिशासी अभियन्ता, विद्युत वितरण को निर्देश दिये कि मतगणना के दौरान निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करें तथा जनरेटर डीजल सीनियर स्टाफ व जूनियर स्टाफ शिफ्टवार तैनात करना सुनिश्चित करें। किसी भी विभाग के स्टाफ के अनुपस्थित पाये जाने पर एफआईआर दर्ज करायी जायेगी।  मुख्य चिकित्साधिकारी मतगणना स्थल पर चिकित्सक टीम, एम्बूलेंस व दवाईयां की उपलब्धता सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि मंडी समिति में एक मतगणना कन्ट्रोल रूम बनाया जायेगा। 
 
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व, अपर जिलाधिकारी प्रशासन, अपर जिलाधिकारी भूअ व अपर उप जिलाधिकारी, सभी उप जिलाधिकारी व तहसीलदार, बेसिक शिक्षाधिकारी, जिला पूर्ति अधिकारी, जिला विकास अधिकारी व परियोजना निदेशक व पंचायती राज अधिकारी, अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग, अधिशासी अभियन्ता विद्युत व अपर नगर आयुक्त, नगर निगम सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।