मृतक मजदूरों के परिजनों को जल निगम में नौकरी देने के मंजू दिलेर ने दिए निर्देश
August 24, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो
# नगर आयुक्त दिनेश चंद्र सिंह और महापौर आशा शर्मा की मौजूदगी में पीड़ित परिजनों को दी गई 10-10 अनुग्रह राशि
गाजियाबाद। राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग की सदस्या मंजू दिलेर ने कहा कि नंदग्राम फ्रीहोल्ड इलाके में चैंबर जोड़ने के दौरान जान गंवाने वाले मजदूरों के परिजनों को नौकरी दी जाएगी। शनिवार को जल निगम के गेस्ट हाउस में मृतक मजदूर संजीव सिंह के पिता सुरेश, दूसरे मृतक होरिल की पत्नी मीना देवी और तीसरे मृतक दामोदर की पत्नी संजूदेवी को दस-दस लाख रुपए के चेक सौंपे।
 
इस मौके पर उन्होंने जल निगम के अधिकारियों को निर्देश दिए कि पीड़ित परिवार के एक-एक सदस्य को निगम में नौकरी दी जाए ताकि वह अपने परिवार का भरण पोषण कर सकें। मंजू दिलेर ने कहा कि वह हर पल पीड़ित परिवार के साथ खड़ी हैं।
 
वहीं, समस्तीपुर के रोसरा विधायक डॉ अशोक कुमार ने पीड़ित के परिजनों को बिहार सरकार की ओर से एक -एक लाख रुपए की मुआवजा राशि प्रदान करने की बात कही। हालांकि इस दौरान वे यूपी सरकार से थोड़ा नाराज दिखे। उन्होंने कहा कि जो दस लाख का मुआवजा दिया गया है, वह कंपनी द्वारा दिया गया है। अभी तक शासन स्तर से पीड़ितों के लिए कोई आर्थिक मदद नहीं दी गई है। 
 
बता दें कि अपने प्रियजनों की याद में बेहाल दिखे दामोदर और होरिल की पत्नी का रो-रोकर हाल बेहाल था। उन्होंने कहा कि घर में 4 बच्चे हैं। बूढ़ी मां है। परिवार में अब कोई कमाने वाला नहीं है। मृतक संजीव सिंह का एक बेटा है। उसके पिता ने बताया कि उनका बेटा पिछले 10 साल से काम कर रहा था। पहली बार इस कंपनी के साथ काम करने के लिए आया था, तभी यह दु:खद हादसा हो गया। उसकी पत्नी को जब से यह खबर मिली है तब से उसे होश नहीं आया। पूरा परिवार संदीप के जाने से एकदम से बेसहारा हो गया।
 
इस मौके पर नगर आयुक्त दिनेशचंद्र, महापौर आशा शर्मा, एसडीएम आदित्य प्रजापति, तहसीलदार परिवर्धन वह जल निगम के अधिकारी मौजूद थे। चेक देने के बाद एंबुलेंस के जरिए पीड़ितों के परिजनों के साथ मृतकों के शव समस्तीपुर के लिए रवाना किए गए।