याद किये गए भिखारी ठाकुर
July 14, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो
पूर्वी दिल्ली के बाबरपुर स्तिथ गोविंद नारायण सिंह स्मृति न्यास कार्यालय के सभागार में भिखारी ठाकुर जी की पुण्यतिथि मनाई गई। कार्यक्रम की शुरूआत दीप प्रज्ज्वलन से हुआ। मुख्यातिथि के रूप में गोविंद नारायण सिंह न्यास के अध्यक्ष एवं दिल्ली भाजपा झुग्गी झोपड़ी के प्रभारी नीरज तिवारी ने भिखारी ठाकुर के बेटी बचाओ नारे के बारे में बोलते हुए कहा कि आज की वर्तमान सरकार इस  विषय पर काम कर रही है, जबकि भिखारी ठाकुर अपने समय में गांव-गांव, घर-घर जाकर लोगों को बेटियों को बचाने के नारे को जन.-जन तक पहुंचाने का काम किया। आज के वर्तमान परिवेष में इनके पदचिन्हों पर चलते हुए समाज जागरूक करने की जरूरत है।
 
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भिखारी ठाकुर स्मृति न्यास के सचिव गजाधर ठाकुर ने श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए भिखारी ठाकुर और उनके ग्रामीण मंडली के सामाजिक जागरूकता के बारे में चर्चा की और उनके गाये गीत को अपने स्वर में सुनाया। इस अवसर पर विख्यात राष्ट्रीय कवि विनय शुक्ल 'विनम्र' जी ने नमन करते हुए इस महान विभूति को एक समाज सुधारक बताया एवं अपनी काव्य पंक्तियों से शब्दांजली दी। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए एडवोकेट एवं पत्रकार संतोष कुमार सिंह ने भिखारी ठाकुर को नमन करते हुए कहा कि आज के युग में जहाँ हमारी पीढियां देश के महान व्यक्तित्व और उनके द्वारा सामाजिक कीर्तिमान को भुलाते जा रहे हैं ऐसे में गोविंद नारायण सिंह न्यास द्वारा महान विभूतियों को याद करते हुए उनके योगदान पर विचार विमर्श करना अनोखा पहल हैं जिससे हमारे युवाओं को सीखने की जरूरत हैं। कार्यक्रम का आयोजन एवं संचालनकर्ता कवि एवं साहित्यकार मुन्ना पाठक ने बताया कि भिखारी ठाकुर जी ने जो बेटी बचाओ का अलख जगाया था उसे भुलाया नहीं जा सकता। उनके द्वारा गाये गीत आज भी समाज को आईना दिखाने का काम कर रहा हैं। भोजपुरी में उनके द्वारा किये गए योगदान के वजह से ही उन्हें भोजपुरी का शेक्सपीयर कहा जाता हैं। पूर्व प्रत्याशी राजेश कुमार ने भी श्रद्धासुमन अर्पित किया। इस अवसर पर न्यास के राष्ट्रीय आई.टी. सेल प्रभारी भूपेंद्र सिंह चाहर, निशांत पाठक, राजा राम, शशिभूषण, सुनील कुमार, शिवदत्त हरित जयप्रकाश सिंह सहित अन्य प्रमुख लोग शामिल हुए।