वाणिज्यकर कर्मचारी हड़ताल पर
August 19, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो
गाजियाबाद। कैडर स्ट्रक्टचर की मांग लेकर वाणिज्यकर कर्मचारियों ने सोमवार को भी कार्य बहिष्कार कर हड़ताल की। हड़ताल की वजह से  सप्ताह के पहले दिन विभागीय कामकाज भी बुरी तरह प्रभावित रहा। कर्मचारियों ने कहा कि जब तक उनकी मांग नहीं मानी जाएगी आंदोलन जारी रहेगा। 
 
उत्तर प्रदेश वाणिज्य कर मिनिस्ट्रियल स्टाफ एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष प्रदीप ने बताया कि जीएसटी लगने के बाद से विभाग में कैडर स्ट्रक्चर की मांग चल रही है। केन्द्र के बराबर पदों का सृजन करने के लिए प्रदेश सरकार ने आईआईएम लखनऊ को कैडर स्ट्रक्टचर का जिम्मा सौंपा। कर्मचारियों का आरोप है कि मुख्यालय द्वारा बनाई गई कमेटी द्वारा टैक्स इंस्पेक्टर, टैक्स आफिसर और सुपरिंटेंडेंट के सृजित पदों एवं अधिकारों को कम करके अपने पद बढ़ाए जा रहे हैं। 
 
उच्च अधिकारी और कमेटी आईआईएम के सृर्जित पदों को खत्म करना चाहती है। कमेटी ने जो रिपोर्ट बनाई है वह भी कर्मचारियों के हित में नहीं है। आज रविवार के अवकाश के बाद कार्यालय खुले लेकिन लखनऊ के आह्वान पर यहां भी कर्मचारी  कार्य बाहिष्कार कर हड़ताल पर बैठ गए। इस मौके पर प्रांतीय मंत्री विपिन राठी, जोनल अध्यक्ष बृजेश वर्मा, सचिव चंद्रपाल, हरिकिशन, मोहित, अमित, साजिद आदि मौजूद रहे।