विश्व रक्तदाता दिवस पर स्वैच्छिक रक्तदान शिविर लगाएगा यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल
June 11, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो
गाजियाबाद। यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल, कौशाम्बी के प्रबंध निदेशक एवं वरिष्ठ समाजसेवी डॉ पी एन अरोड़ा ने बताया कि विश्व रक्तदाता दिवस पर आगामी 14 जून को यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल, कौशाम्बी अपने हॉस्पिटल परिसर में एक स्वैच्छिक रक्तदान शिविर लगाएगा। उन्होंने कहा कि कार्ल लैंडस्टेनर जैसे महान वैज्ञानिक, जिन्होंने एबीओ रक्त समूह तंत्र के अपने महान खोज के लिये नोबल पुरस्कार प्राप्त किया था, के जन्मदिवस को याद करने के लिये, साथ ही साथ राष्ट्रीय और वैश्विक स्तर पर इसको मनाने हेतु सभी रक्त दाताओं को एक अनमोल मौका प्रदान करने के लिये, विश्व रक्त दाता दिवस एक महत्वपूर्ण 
अवसर लाता है।
 
डॉ अरोड़ा ने बताया कि 14 जून को पूरे विश्व के बहुत सारे देशों में लोगों के द्वारा हर वर्ष विश्व रक्तदाता दिवस मनाया जाता है।  रक्तदाता इस दिन एक मुख्य भूमिका में होता है क्योंकि वो जरुरतमंद व्यक्ति को जीवन बचाने वाला रक्त दान करते हैं। यदि स्वैच्छिक रक्दाता नियमित रूप से रक्तदान करते रहें तो किसी भी मरीज की जान ब्लड की कमी से नहीं जा सकती। उन्होंने कहा कि इन सबका एक मात्र उपाय है स्वैच्छिक रक्तदान शिविर,  जिसके माध्यम से हॉस्पिटल का मकसद है कि वह हर इंसान के अंदर रक्तदान की भावना पैदा करे ताकि ज्यादा से ज्यादा संख्या में लोग रक्तदान कर सकें, जिससे जरूरतमंदों को समय पर ब्लड की उपलब्धता होगी और उनकी जान बच सकेगी।

यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल की ब्लड बैंक प्रभारी डॉ नलिनी सिंह ने बताया कि दान दिये गये रक्त का इस्तेमाल गंभीर रुप से रक्त की कमी से जूझ रही महिला, बच्चे, दुर्घटना के दौरान अत्यधिक खून बह जाने के बाद पीड़ित को, सर्जिकल मरीज को, कैंसर पीड़ित को, थैलेस्सेमिया मरीज को, हिमोफिलीया से पीड़ित लोग, लाल खून की कोशिका की कमी, खून की गड़बड़ी, खून का थक्के की गड़बड़ी से जूझ रहे लोगों को दिया जाता है।

वरिष्ठ पैथोलॉजिस्ट डॉ प्रशांत सिंह बताते हैं कि उचित दान के लिये पर्याप्त रक्त के प्रबंधन के दौरान बहुत सारे जीवन के खतरों की चुनौतियों का सामना एक पर्याप्त रक्त आपूर्ति से रहित जगह करती है। खून की पर्याप्त आपूर्ति और इसके उत्पादों को स्व-प्रेरित, बिना भुगतान वाले और स्वैच्छिक रक्त दाताओं के द्वारा नियमित और सुरक्षित दान के द्वारा ही केवल पूरा किया जा सकता है। 

हॉस्पिटल के महाप्रबंधक डॉ सुनील डागर ने सभी स्वैच्छिक रक्दाताओं से 14 जून को बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेने की अपील की। साथ ही डॉ राहुल शुक्ला, मेडिकल डायरेक्टर ने सभी डॉक्टरों से अनुरोध किया कि वह ज्यादा से ज्यादा लोगों को रक्दान के लिए प्रोत्साहित करें। साथ ही बैनर और पोस्टरों के माध्यम से लोगों को रक्तदान के लिए जागरूक करने का अभियान प्रारम्भ किया। इस अवसर पर यशोदा हॉस्पिटल कौशाम्बी के ब्लड बैंक के अधिकारी कैलाश पपनोई, मनी कुमार, पूजा चौधरी, गौरव भार्गव भी मौजूद थे।