‘दर्द मुक्त बिहार’ के बाद अब ‘इम्युनिटी युक्त बिहार’ - डॉ राजीव कुमार सिंह
May 15, 2020 • पटना ब्यूरो

पटना।  ‘दर्द मुक्त बिहार’ का लक्ष्य ले कर चल रहे साई हेल्थ केअर ने अब कोरोना महामारी के मद्देनजर  ‘इम्युनिटी युक्त बिहार’ का लक्ष्यत निर्धारित किया है। इस बारे में साई हेल्थ केअर सह जदयू चिकित्साक प्रकोष्ठत के डॉ राजीव कुमार सिंह ने कहा कि साई हेल्थ केअर अब हर स्कूल और अलग - अलग सामाजिक स्थलों पर कैम्प्स का आयोजन कर लोगों की इम्युनिटी बढ़ाने की विधि पर कार्य करेगा। हमारे इस मुहिम में संस्था के निर्देशक डॉ राजीव कुमार सिंह, ओरो डेंटल के डॉ. आशुतोष त्रिवेदी, अंकिता सिंह, आदित्य कुमार सहित अन्य डॉक्टर और सहयोगी मुख्य भूमिका में होंगे। हमने जैसे ‘दर्द मुक्त बिहार’ के सपने को धरातल पर लाया। अब ‘इम्युनिटी युक्त बिहार’ को भी सफल बनाएंगे।
डॉ राजीव ने बताया कि साई हेल्थ केअर विगत 10 वर्षों से निशुल्क कैंपो की मदद से लोगो को इम्युनिटी बढ़ाने के किये जागरूक करता आ रहा है। ऐसे में आज विश्व जब कोरोना रूपी महामारी से लड़ रहा और लाखों लोग इस महामारी से संक्रमित होकर दम तोड़ रहे तो एक शब्द हर किसी के जुबान पर है ‘इम्युनिटी’।  ये कोई नया शब्द नही, हमारे रोग से लड़ने की शक्ति को ही तो कहते है। इम्युनिटी और ये बढ़ता है जब हम स्वस्थ होते हैं, हमारे शरीर मे लचीलापन होता है, हमारे शरीर मे रक्त का विधिवत प्रवाह होता है।
उन्होंनने बताया कि रोटरी पटना ग्रेटर, नन्हे कदम जैसे समाजसेवी संस्थाओ के साथ जुड़ कर हमलोग समाज के हर व्यक्ति तक स्वस्थ शरीर के फायदे और इसको बनाये रखने की विधि के संचार में लगे हैं। शरीर रोग से तब ही लड़ेगा जब इसमे शक्ति होगी, शक्ति के लिए शरीर का एक्टिव रहना अतिआवश्यक है। आज के बदलते परिवेश में छोटे बच्चो और बुजुर्गों को सबसे ज्यादा परेशानी है तो कामगार लोग नही कठिन दिनचर्या से गुजर रहे हैं। इन हालातों में दर्द आम बात है, जब दर्द बढ़ेगा तो शरीर उससे लड़ने में लगता है, इसी जगह हमारी शक्ति धीरे धीरे कम होती है, पर फिजियो के मदद से न सिर्फ किसी तरह के दर्द से पूर्णतः मुक्ति सम्भव है अपितु शरीर की शक्ति बढ़ा कर किसी भी गम्भीर बीमारी से लड़ने को शरीर तैयार भी होता है।