3M ने गर्ल चाईल्ड की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए रिलायंस स्मार्ट के साथ किया गठजोड़
June 25, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो

                        3M का अद्वितीय कार्यक्रम उन्हें पहुंचाएगा दुबारा स्कूल

बैंगलोर: लड़कियों की शुरुआती शिक्षा में सहयोग करने की अपनी प्रतिबद्धता के तहत 3M इंडिया ने केसी महिंद्राएजुकेशन ट्रस्ट और रिलायंस स्मार्ट स्टोर्स के साथ मिलकर एक अद्वितीय प्रोग्राम पेश किया है। 'फ्रॉम यू टू हर' नामक यह प्रोग्राम महानगरों में रहने वाले बच्चों से जुड़ा है, जो हाथों से बने क्राफ्ट एवं एक व्यक्तिगत संदेश द्वारा नन्ही कली को नए अकादमिक साल के लिए शुभकामनाएं दे रहे हैं।

इस कार्यक्रम के क्रियान्वयन के लिए 3M इंडिया इस साल 'बैक टू स्कूल' सीज़न के दौरान चुनिंदा रिलायंस स्मार्ट स्टोरों में 

क्राफ्ट कैंपआयोजित कर रहा है।शहरो के बच्चो द्वारा कैंप में बनाए गए क्राफ्ट महाराष्ट्र के नन्ही कली स्कूल की लड़कियों को भेजे जायेंगे।व्यक्तिगत संदेशो के साथ ये क्राफ्ट इन बच्चियों के लिए इस शैक्षणिक सत्र में दुबारा स्कूल लौटने का तोहफा होंगे।इसके जवाब में नन्ही कलियां अपने हाथ से लिखे, 'धन्यवाद' नोट्स भेजेंगी, जो इन क्राफ्ट कैंप्स में हिस्सा लेने वाले बच्चों को दिए जाएंगे।

इन तीनो संगठनो का उद्देशय यही है कि समाज में उन लड़कियों के प्रति सहानुभूति और एकात्मकता की भावना उत्पन्न हो, जो भारत के ग्रामीण इलाकों में शिक्षा पाने का निरंतर प्रयास कर रही हैं। इसी उद्देशय के साथ ये तीन संगठन शहरो में रह रहे  बच्चो को यह अद्वितीय प्लेटफार्म प्रदान कर रहे है।

बैक-टू-स्कूल सीज़न के दौरान ग्रीटिंग्स के अलावा,3M इंडिया ने हर उस 3M स्टेशनरी उत्पाद की बिक्री से लड़कियों की शिक्षा के लिए 1रु. का योगदान देने का संकल्प लिया है, जो फरीदाबाद, मुंबई और बैंगलोर में रिलायंस स्मार्ट स्टोरों से बेचा जाएगा।

'बैक टू स्कूल' प्रोग्राम के लॉन्च पर 3M इंडिया की भूतपूर्व एमडी, मिस देबराती सेन,जिन्होंने 3M नन्ही कली पार्टनरशिप का निर्माण किया, ने बताया, ''लड़कियों की शिक्षा के महत्व के बारे में जागरुकता बढ़ाने के लिए इस साल हमने यह कार्यक्रम अपने ग्राहकों तक विस्तृत करने का निर्णय लिया हैं। हमें रिलायंस स्मार्ट के साथ साझेदारी करने की खुशी है, जिन्होंने हमें भारत के सैकड़ों घरों में यह अभियान ले जाने में समर्थ बनाया।'' रमेश रामादुराई, एमडी, 3M इंडिया ने कहा, ''बैक-टू-स्कूल प्रोग्राम का उद्देश्य एक ज्यादासहानुभूतिपूर्ण समाज का निर्माण करना है और हम नन्ही कली के साथ अपनी साझेदारी द्वारा पिछड़ी व गरीब लड़कियों की शिक्षा कोबढ़ावा देने के लिए समर्पित हैं।''

के सी महिंद्रा एजुकेशन ट्रस्ट की ट्रस्टी एवं एक्ज़िक्यूटिव डायरेक्टर, शीतल मेहता ने कहा, एजुकेशन का मतलब केवल टैक्स्ट बुक्स पढ़ना और परीक्षाओं में बैठना ही नहीं हैं, बल्कि यह तो समाज के समग्र विकास का माध्यम है। इसके लिए हमारी बेटियों को भी बेटों कीे तरह शिक्षित करना बहुत महत्वपूर्ण है। प्रोजेक्ट नन्ही कली में हम लड़कियों को रोचक व रचनात्मक तरीके से सहयोग करना चाहते हैं,जिसके लिए हम अपनी यलो टेबलेट्स और मनोरंजक ग्रुप एक्टिविटीज़ का इस्तेमाल करते हैं। हमें 'फ्रॉम यू टू हर' अभियान के लिए3M के साथ साझेदारी करने की खुशी है, जो हमारी नन्ही कलियों को उत्साहित रखेगा और सुविधासंपन्न पृष्ठभूमि के बच्चों के मन मेंउनके प्रति सहानुभूति पैदा करेगा।''

इस साझेदारी के बारे में  दामोदर माल, सीईओ, रिलायंस रिटेल वैल्यू फॉर्मेट (ग्रोसरी रिटेल) ने कहा, ''जिस जगह पर हमारे स्टोर हैं,वहां के समुदाय का वो अभिन्न हिस्सा बन गए हैं। नागरिकों को लड़कियों की शिक्षा के प्रति जागरुक बनाने के अभियान में  3M टीम के साथ काम करते हुए हमें गर्व हो रहा है।''