द श्रीराम मिलेनियम स्कूल में चार दिवसीय एसटीईएम कॉन्क्लेव का आयोजन किया गया
December 18, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो

गुरुग्राम। द श्रीराम मिलेनियम स्कूलए गुड़गांव ने श्री एडुकेयर लि एसईएल के सहयोग से पूरे देश के शिक्षाविदों के लिए एसटीईएम कॉन्क्लेव का आयोजन किया।इस चार दिवसीय कन्क्लाव में पूरे देश के स्कूलों ने भागीदारी की। इसका मकसद एसटीईएम आधारित ज्ञान अर्जन के बारे में जानकारीए इनोवेटिव आइडियाए प्रक्रिया और रणनीतियां प्रदान करना है।

कॉन्क्लेव  का मुख्य आकर्षण जाने.माने इनोवेटर और शिक्षा सुधारक सोनम वांगचुक से सीखना और बात करना था जो विद्यार्थियों के लिए अभूतपूर्व अनुभव रहा। इस अवसर पर वांगचुक ने विद्यार्थियों में जानने की चाहत जगाने पर जोर दिया और उन्हें सोच में  वास्तविकता लाने की अपील की। साथ ही उन्होंने कहा कि आज परिवेश की मांग और जरूरत के आधार पर इनोवेटिव साॅल्यूशन देने होंगे। श्री वांगचुक ने 3 आर रेड्यूस,रीयूज़ और रीसाइकल के अलावा 3 एच हेड,हैंड और हार्ट पर भी ध्यान देने के लिए कहा।  

कॉन्क्लेव जानकारी आदान.प्रदान करने की कार्यशाला थी जिसमें विद्यार्थियों को वास्तविक दुनिया में नए कार्य करने का ठोस ढांचा बनाने और समस्या समाधान हेतु डिज़ाइन थिंकिंग पर जोर देने के बारे में विमर्श किया गया। साथ हीए विशेषज्ञों एवं उद्यमियों से एआई के बारे में सीखने का अवसर मिला। कम लागत के साधनों और सरल उपकरणों की मदद से कई अन्य डीआईवाई प्रोजेक्ट का भी कन्क्लाव के सत्रों के बीच समावेश किया गया जो विभिन्न विषयों को आपस में जोड़ कर स्कूलों में अधिक स्थायित्व लाएंगे।

इस अवसर पर द श्रीराम मिलेनियम स्कूलए गुड़गांव की निदेशक उत्तरा सिंह ने बताया हमारे बीच मशहूर इनोवेटर और शिक्षाविद सोनम वांगचुक के आने से अवसर की गरिमा बहुत बढ़ी है। प्रतिभागियों में बहुत उत्साह दिखा है और हम निरंतर अपने विद्यार्थियों में इनोवेशन और गुणवत्ता पर जोर देने की भावना जगा रहे हैं। हमारा मकसद विद्यार्थियोें को समस्या समाधान के लिए विशेषज्ञता के साथ तैयार करना है और उन्हें भविष्य में सफल होने के लिए जरूरी क्षमताओं का विकास करना है ताकि वे उनकी जरूरतों को पूरा करने के बेहतर समाधान हासिल करें।