# लोकमित्र फाउंडेशन ने पूर्वी नगर निगम के स्कूल में भी आयोजित की कार्यशाला
नई दिल्ली।हाथ धोने की आदत से तकरीबन 40 फीसदी बीमारियों को दूर रख सकते हैं। डॉक्टरों का मानना है कि स्वच्छता का यह आसान तरीका अपना कर हम स्वस्थ रह सकते हैं। हाथ धोने के महत्व को समझाने के लिए ग्लोबल हैंडवाश डे के मौके पर लोकमित्र फाउंडेशन और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने ग्लोबल हाईजीन काउंसिल और पूर्वी दिल्ली नगर निगम के साथ मिलकर मंगलवार को स्कूली बच्चों के लिए कार्यशाला का आयोजन किया। 
 
कार्यशाला में सुंदर नगरी एम ब्लॉक स्थित निगम स्कूल औऱ विवेक विहार स्थित अर्वाचीन इंटनेशनल स्कूल के सैकड़ों बच्चों, शिक्षकों और कई विशेषज्ञों ने भाग लिया। इस मौके पर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. सत्येन्द्र जैन मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहे। इस अवसर पर उन्होंने बच्चों को बताया कि हाथ धोने की आदत को अपना कर बच्चे अपने को और अपने पूरे परिवार को स्वस्थ रख सकते हैं। हाथ धोने की आदत सिर्फ आदत ही नहीं है बल्कि स्वच्छता की ओर जाने का पहला कदम है। अगर इस आदत को अपने जीवन का हिस्सा बना लेते हैं तो आधी बीमारी पलभर में दूर हो जाती हैं।
 
इस कार्यक्रम में मुख्य वक्ता और लोक मित्र फाउंडेशन के अध्यक्ष डॉ. नरेन्द्र सैनी ने हाथ धोने की तकनीकी बातें साझा की। उन्होंने बताया कि हाथ धोने का सही तरीका अपनाना जरूरी हैं। साबुन को हाथ में ले कर 30-40 सेकंड तक अच्छी तरह मलना जरुरी है ताकि हाथों में मौजूद सभी कीटाणु खत्म हो जाए। कार्यक्रम में लोकमित्र फाउंडेशन की निदेशक अनिता रावत, राजीव कुमार, विजयलक्ष्मी ठाकुर, सीए  ज्ञान प्रकाश, राजवीर सिंह, श्रावणी मिश्रा, शालू शर्मा और संतोष सूर्यवंशी आदि प्रमुख रुप से मौजूद थे।   
 
इस कार्यक्रम से पहले ग्लोबल हैंडवाश डे के मौके पर ही मंगलवार को लोकमित्र फाउंडेशन ने पूर्वी दिल्ली नगर निगम के सुंदर नगरी एम ब्लॉक स्थित प्राथमिक स्कूल में स्वच्छता पर महत्वपूर्ण कार्यशाला का आयोजन किया। इस अवसर पर स्कूल इंचार्ज शीला शर्मा, शिक्षिका वंदना गौतम व अन्य सहित सैंकड़ों बच्चे मौजूद थे। इस मौके पर बच्चों के लिए प्रश्नोत्तरी और पोस्टर बनाने की प्रतियोगिता का भी आयोजन किया और बच्चों को पुरस्कृत भी किया गया।