नई दिल्ली । भारतीय जनता पार्टी दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को पत्र लिखकर दिल्ली जल बोर्ड द्वारा सप्लाई हो रहे दूषित पानी के नमूने पूरी दिल्ली से एकत्र करने के लिए साथ चलने और उसकी जांच किसी भी लैबोरेट्री में कराने की चुनौती दी है। उन्होंने कहा कि दिनेश मोहनिया दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष हैं और उनके क्षेत्र संगम विहार में 500 से 1000 रूपये में पानी के टैंकर खुलेआम बिक रहे हैं, इसकी भी जांच होनी चाहिये।
 
दिल्ली भाजपा अध्यक्ष  ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कहा कि मुख्यमंत्री ने भारतीय मानक ब्यूरो की रिपोर्ट में देखा होगा कि किस प्रकार दिल्ली में सप्लाई किया जा रहा पीने का पानी पूरी तरह से जहरीला हो चुका है, जिससे दिल्ली की जनता काफी भयभीत है। भय का वातावरण दिल्ली में बना हुआ है जल बोर्ड द्वारा सप्लाई किये जा रहे पानी को पीने से लोग डर रहे हैं। बड़ी संख्या में लोगों ने मुझ से मिलकर और समय लेकर अपनी इस समस्या को बताया है सभी लोग अपने परिजनों को लेकर बहुत चिन्तित हैं, खासकर अपने बच्चों को लेकर, सूचना के अधिकार के खुलासे से पता चला है कि पिछले चार वर्षों में दिल्ली में रह रहे 21 लाख लोग पानी से होने वाली जलजनित बीमारी डायरियां से पीड़ित हो गये हैं। दिल्ली के अलग-अलग जगहों से आने वाले लोग बता रहे हैं कि जैसे ही वो नल खोलते हैं तो गंदा, बदबूदार पानी आता है, जिसमें से सीवर के पानी की गंध आती है और यही पानी जल बोर्ड पूरी दिल्ली में सप्लाई कर रहा है।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष  कहा कि केजरीवाल आप दिल्ली के मुख्यमंत्री है और एक आम आदमी पार्टी के नेता ने बताया कि मुख्यमंत्री डरे व सहमें हुये हैं कि दिल्ली की जनता जो अपने आप को ठगा सा महसूस कर रही है वो अगामी विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी को सत्ता से बाहर कर देगी। मुख्यमंत्री किसी भी तरह की राजनीति करें लेकिन दिल्ली के मासूम बच्चों व जनता के जीवन से खिलवाड़ न करें। मुफ्त पानी के नाम पर दिल्ली में गंदा पानी सप्लाई किया जा रहा है और दिल्ली सरकार ढिंढोरा पीट रही है कि हम स्वच्छ पानी दिल्ली की जनता को दे रहे हैं। केन्द्रीय खाद्य मंत्री श्री राम विलास पासवान की अगुवाई में गठित टीम पूरी दिल्ली से पानी के नमूने लेने को तैयार है। मैं उत्तर-पूर्वी दिल्ली का सांसद होने के नाते उनकी टीम के साथ दिल्ली में पानी के नमूने एकत्र करने जाऊंगा। मेरा अनुरोध है कि मुख्यमंत्री दिल्ली सरकार के कुछ अधिकारियों को भेजकर हमारे साथ दिल्ली से पानी के नमूने एकत्र करें। मीडिया के साथी भी हमारें साथ रहेंगे और हम आपका भी स्वागत करेंगे यदि आप आयेंगे।
 
मनोज तिवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री हमें सूचित करें समय और तिथि के बारे में कि हम कब पूरी दिल्ली से पानी के नमूने एकत्र करने के लिए चले। पानी की गुणवत्ता को लेकर पारदर्शिता और अलग-अलग राय लेते हुये, हमारे द्वारा लिये गये नमूनों को दो तीन विशेषज्ञों से भी दिखाएंगे ताकि परिणाम पर किसी का भी कोई संदेह न रहे।