सतर्कता जांचों के आयोजन से दोषियों के खिलाफ कार्रवाई
October 29, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो

दिल्ली। उत्तर रेलवे के  सतर्कता जागरूकता सप्ताह-2019 का प्रारम्भ इसके मुख्यालय बडौदा हाउस नई दिल्ली में विगत दिन हुआ । जिसकी शुरूआत उत्तर रेलवे के महाप्रबन्धक टी.पी. सिंह द्वारा सभी कर्मचारियों एवं अधिकारियों को सत्यनिष्ठा का शपथ दिलाकर की गयी । इस समारोह में बडी संख्या में रेलवे के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे । सत्यनिष्ठा और शुचिता के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए सभी सरकारी निकायों में यह सप्ताह मनाया जाता है । इस वर्ष इस सप्ताह का थीम “सत्यनिष्ठा- एक जीवन शैली” है ।

 इस सप्ताह के दूसरे दिन सतर्कता अधिकारियों और कर्मचारियों की एक कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें महत्वपूर्ण मामलों पर विचार-विमर्श करने के साथ-साथ निवारक जाँचों को और कारगर बनाने और अपराधों का पता लगाने के लिए विचारों के आदान-प्रदान पर बल दिया गया ।

उत्तर रेलवे सतर्कता विभाग द्वारा 1 जनवरी से 2227 निवारक/डिकॉय (छद्मवेश में) जांचों का आयोजन किया गया । इन जांचों के दौरान 55 टिकट दलालों और 99 अनधिकृत विक्रेताओं को पकड़ उन पर रेल अधिनियम की धारा 144 के अंतर्गत कार्यवाही की गयी । इसके अतिरिक्त इन जांचों के दौरान विभिन्न मामलों में लगभग 4.68 करोड़ रूपये वसूल किए गए ।