स्कूलों में मानसिक स्वास्थ्य संवर्धन पर तीन दिवसीय कार्यक्रम सम्पन्न
October 12, 2019 • प्रथम स्वर ब्यूरो
वाराणसी । भारतीय पुनर्वास परिषद द्वारा  अनुमोदित  तथा  नई सुबह  मानसिक स्वास्थ्य  एवं व्यवहार विज्ञान संस्थान  वाराणसी द्वारा  आयोजित  तीन दिवसीय सतत पुनर्वास शिक्षा कार्यक्रम जिसका विषय था *स्कूल में मानसिक स्वास्थ्य संवर्धन* के समापन कार्यक्रम सम्पन्न हुआ । समापन समारोह के मुख्य अतिथि पद से कमला कांत पांडेय, राष्ट्रीय महासचिव, सक्षम ने कहा कि सतत पुनर्वास शिक्षा के माध्यम से सेवारत कर्मियों के कौशल में सतत विकास का प्रयास किया जाता है दिव्यांगता के क्षेत्र में कार्य कर रहे लोगों के लिए धैर्य सबसे आवश्यक गुण है पुनर्वास कर्मियों को सेवा भाव से कार्य करना चाहिए । गैर सरकारी संस्था नई सुबह  संस्थापक /अध्यक्ष डॉ अजय तिवारी   ने कहा कि हमें दिव्यांगता के क्षेत्र में सेवा भाव से कार्य करना चाहिए ना की पैसा कमाने के लक्ष्य से। पैसा कमाने के लिए पुनर्वास पुनर्वास कर्मियों को कुछ अलग से प्रयास करना चाहिए । डॉ मनोज कुमार तिवारी ने कहा कि आज भी दिव्यांगता के क्षेत्र में कार्य कर रहे लोगों की भारी कमी है तथा जो लोग इस क्षेत्र में कार्य कर रहे हैं उन्हें भी अपने कौशल में सतत रूप से सुधार करने की आवश्यकता पड़ती है इसलिए सतत पुनर्वास शिक्षा कार्यक्रम अत्यंत महत्वपूर्ण कार्यक्रम है कार्यक्रम के अंत में सभी सहभागियों को सहभागिता प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता रमाशंकर मिश्र ने किया । 
कार्यक्रम का संचालन डॉ मनोज कुमार तिवारी ने तथा अतिथियों का स्वागत एवं धन्यवाद ज्ञापन डॉ अजय तिवारी ने किया कार्यक्रम में मुख्य रूप से डॉ भाग्यश्री कर, डॉ संध्या मौर्य, डॉ अमित तिवारी, सुनीता तिवारी, आजाद तिवारी, अर्पिता मिश्रा ने सक्रिय सहभागिता की।